साल 2012 की 12 फिल्में और उनसे जुड़ी 12 चटपटी गपशप!


जैस कि हर साल होता है बॉलीवुड अपने दर्शकों को बहुत सी यादगार फिल्में दे जाता है. साल 2012 में भी बॉलीवुड ने वही काम किया.हम उन बेहतरीन फिल्मों में से कुछ खास फिल्में आपके लिये लाये हैं जिनसे जुड़े चटपटे और रोचक तथ्य आपकी इन फिल्मों को देखने की इच्छा को बढ़ा देगी.

बर्फी

ये फिल्म अनुराग बसु के निर्देशन में बनी थी.फिल्म में इलियाना डिक्रूज,रणबीर कपूर और प्रियंका चोपड़ा तीनों ने इतनी बेहतरीन एक्टिंग की है कि फिल्म देखते ही बनती है. फिल्म हर एक मामले मे मास्टरपीस थी. फिल्म की कहानी , गाने डायरेक्शन और लोकेशन, सब कुछ बेहतरीन था.इसीलिये बावजूद इसके कि फिल्म बहुत ही कम स्क्रीन में रिलीज हुयी थी,फिल्म ने आसानी से 100 करोड़ कमा लिये.  इलियाना डिक्रूज को इस फिल्म के लिये बेस्ट डेब्यू फीमेल का अवॉर्ड से भी नवाजा गया.साथ ही रणबीर को इसके लिये बेस्ट एक्टर का फिल्मफेयर पुरस्कार भी मिला.

अग्नीपथ

अजीब से चेहरे वाला विलेन कांचा चीना , खतरनाक रउफ लाला और गुस्से से भरा विजय, ये तीनों और साथ में,करण मल्होत्रा का शानदार डायरेक्शन. बस और कुछ चाहिये था तो एक अच्छी सी कहानी जो उन्हें अमिताभ ने दे ही दी.पुरानी अग्नीपथ की रीमेक ये फिल्म उतने ऊंचे दर्जे की तो नहीं बन पायी जितनी अमिताभ वाली थी लेकिन फिर भी ऋतिक, ऋषि कपूर और संजय दत्त ने मिलकर इसे उम्दा फिल्म बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी.फिल्म की खास बात ये थी कि फिल्म में विलेन के रुप में प्रमोट तो संजयदत्त को किया गया लेकिन बाजी मार ले गये रउफ लाला बने ऋषिकपूर.ऋषि कपूर की नकारात्मक भूमिका के तौर पर ये उनकी पहली फिल्म थी.

जब तक है जान

फिल्म में वही पुरीना फार्म्युला था जो यश राज बैनर की फिल्मों में रहता है. क्योंकि फिल्म में शाहरुख थे तो फिल्म का रोमांटिक होना जरूरी भी था. ये फिल्म यश चोपड़ा की एक निर्देशक के तौर पर आखिरी फिल्म थी.फिल्म रिलीज भी नहीं हो पायी थी कि यश चोपड़ा दुनिया छोड़ के जा चुके थे.

कहानी

सुजॉय घोष ने विद्या बालन को लेकर कहानी का निर्माण किया . फिल्म ने धीरे-धीरे माउथ पब्लिसिटी की वजह से जी भर के कमाई की. इस फिल्म में विद्या की एक्टिंग इतनी दमदार थी कि उनको इस फिल्म के लिये फिल्मफेयर का बेस्ट एक्ट्रेस अवॉर्ड से भी नवाजा गया.फिल्म में विद्या के अलावा अगर किसी ने ध्यान खीचा तो वो थे नवाजुद्दीन. रोल तो छोटा था लेकिन दमदार था.इसके बाद से ही नवाज के दिन बहुरने शुरु हो गये.

OMG

ओह माय गॉड नाम से बनी इस फिल्म का निर्देशन शुक्ला ने किया था. चूंकि फिल्म परेश रावल केलोकप्रिय नाटक ‘किशन-कन्हैया’ पर आधारित था इसलिये फिल्म के लीड एक्टर के तौर पर वो ही थे.फिल्म की कहानी और अक्षय के मित्रवत् अपीयरेंस ने फिल्म को छोटे बजट का होने के बावजूद सुपरहिट बना दिया. फिल्म खूब सराही गयी. हालांकि फिल्म में सभी धर्मों के आडंबरों पर चोट किया गया था, इसलिये कुछ तथाकथित धर्मरक्षकों ने फिल्म की अव्हेलना भी की.

इंग्लिश-विंग्लिश

इस फिल्म के लिये डायरेक्टर गौरी शिंदे को काफी पुरस्कारों से नवाजा गया. अभिनेत्री श्रीदेवी की इस कमबैक फिल्म ने हर मुहाने पर समीक्षकों और दर्शकों की सराहना बटोरी. इस फिल्म के लिये श्रीदेवी को बेस्ट एक्टर फीमेल के लिये भी नॉमिनेट किया गया था.

गैंग्स ऑफ वासेपुर और गैंग्स ऑफ वासेपुर 2

दो भागों में रिलीज यह फिल्म बॉलीवुड की अब तक की सबसे यादगार फिल्मों में से एक है.इस फिल्म ने बॉलीवुड को नये और प्रतिभा से भरे कई एक्टर्स दिये. इस फिल्म के बाद मनोज बाजपेयी को फिर से फिल्में मिलने लगीं तो नवाजुद्दीन के करियर को ऐसे पंख लगे कि कुछ पूछो ही मत.फिल्म के डायरेक्टर अनुराग कश्यप ने इस फिल्म में डायरेक्टर तिग्मांशु धूलिया को भी एक्टर बनाकर उनको नयी पहचान दी.फिल्म की खासियत इसके गालियों से भरे संवाद थे जो अपने आप हंसी आने को मजबूर कर देते थे.

विकी डोनर

जॉन अब्राहम के बैनर तले बनी ये फिल्म उस साल की सबसे अलग फिल्म बन गयी क्योंकि फिल्म में स्पर्म डोनेट करने के ऐसे मुद्दे को उठाया गया था जो अभी तक शर्म की बात समझी जाती थी.फिल्म से सबे ज्यादा फायदा आयुष्मान खुराना को हुआ तो साथ ही फेयर एन लवली गर्ल यामी गौतम भी मेन स्ट्रीम फिल्मों में आ गयी . इस फिल्म के बाद वी जे आयुष्मान खुराना एक्टर आयुष्मान खुराना हो गये.

एक था टाइगर

इस फिल्म ने इस साल सबसे ज्यादा कमाई की थी.एक बार फिर से सलमान का जादू इस फिल्म में चला था. गजब की बात तो ये थी कि अभी तक यशराज के चहेते शाहरुख ने यशराज की फिल्म को इतना बड़ा नहीं बनाया था जितना सलमान ने बना दिया. सलमान ने इस बैनर को जितनी कमाई कराई उतनी तो आज तक किसी भी स्टार ने नहीं करायी थी. फिल्म का डायरेक्शन कबीर खान के हाथों में था, इसलिये फिल्म हर लिहाज से एक अच्छी देखने वाली फिल्म बनने में सफल हुयी. फिल्म की खास यूएसपी थी सलमान और कटरीना की जोड़ी, जबकि उस समय दोनों के रिश्तों में खटास आ चुकी थी और साथ में फिल्म के वर्ल्ड क्लास एक्शन जो इसके पहले बॉलीवुड में बहुत ही कम देखे गये थे.

तलाश

सुपरनैचुरल पावर पर बेस्ड ये फिल्म आमिर ,करीना ,नवाज और रानी मुखर्जी से सजी हुयी थी. फिल्म ने कोई खास कमाई तो नहीं की लेकिन हिट फिल्मों की लिस्ट में शामिल हो गयी.फिल्म की बेहतरीन कहानी इतनी मजबूत थी कि एक बार देकने बैठ जाओ तो उठने का मन न करे. फिल्म में सभी एक्टर्स को अपना-अपना एक्टिंग टैलेंट दिखाने का भरपूर मौका मिला और सबने इस मौके को बहुत अच्छे से भुनाया.आपकी जानकारी के लिये बता दें कि फिल्म का डायरेक्शन किया था रीमाकागती ने.

इशकजादे

ये फिल्म अर्जुन कपूर की डेब्यू फिल्म थी .इस फिल्म में अर्जुन और परिणीति चोपड़ा के काम को कूब सराहा गया था.फिल्म के डायरेक्टर हबीब फैसल ने अर्जुन से जैसा काम इस फिल्म के लिये निकलवाया था,वैसा अभी तक कोई डायरेक्टर नहीं निकलवा पाया है. दुखद बात तो ये थी कि जब ये फिल्म रिलीज हुयी तब अर्जुन की मां चल बसी.अर्जुन इस बात से काफी दुखी थे.इस फिल्म ने भी कमाई के मामले में अपनी दावेदारी पक्की की थी.

पान सिंह तोमर

जब तिग्मांशु जैसा डायरेक्टर और इरफान जैसा एक्टर एक साथ काम करे तो फिल्म तो अच्छी बनेगी ही.ये फिल्म चंबल के पान सिंह तोमर पर आधारित थी जिसने सिस्टम से तंग आकर बंदूक उठा ली थी.इस बायपिक  फिल्म ने कई विदेशी मंचों पर वाहवाही भी लूटी और बहुत से अवॉर्ड भी अपने नाम किये.

loading...


Comments

comments