प्रियंका गाँधी वाड्रा से जुड़ी 18 रोचक बातें ! Who is Priyanka Gandhi

नेहरू-गाँधी परिवार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचाना जाता है. गाँधी परिवार एक प्रतिष्ठित राजनैतिक परिवार है. जहां सभी राजनीति से कहीं ना कहीं संबंध रखता है. उसी परिवार की राजकुमारी की तरह पली बढ़ी प्रियंका गाँधी एक आकर्षण वाली महिला हैं. बचपन से राजनीति माहौल में रहने वाली प्रियंका का झुकाव राजनीति में कुछ खास नहीं रहा है. आज उनके जन्मदिन के खास मौके पर हम आपको उनसे जुड़ी कुछ रोचक बातों से रूबरु कराते हैं…..

1
प्रियंका गाँधी वाड्रा से जुड़ी 18 रोचक बातें.

1. प्रियंका का जन्म 12 जनवरी, 1972 दिल्ली में ही हुआ था. वे पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गाँधी और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की वर्तमान अध्यक्ष सोनिया गाँधी की दूसरी संतान हैं.

2. प्रियंका की दादी इंदिरा गाँधी और परदादा जवाहर लाल नेहरू भी भारत के प्रधानमंत्री रहे हैं. उनके दादा फिरोज़ गाँधी एक जाने-माने संसद सदस्य थे और उनके परदादा, मोतीलाल नेहरु भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के एक महत्वपूर्ण नेता थे.

3. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी प्रियंका गाँधी के बड़े भाई हैं. भाजपा नेता वरुण गाँधी भी प्रियंका के चचेरे भाई हैं.

4. प्रियंका ने अपनी स्कूली शिक्षा नई दिल्ली के मॉर्डन स्कूल कान्वेंट ऑफ जीजस एंड मैरी से की और नई दिल्ली के जीजस एंड मैरी यूनिवर्सिटी से स्नातक की पढ़ाई पूरी की है.

5. मनोविज्ञान से बीए कर चुकीं प्रियंका की हिन्दी साहित्य में बहुत रूचि है. इसका श्रेय वह अमिताभ बच्चन की मां तेजी बच्चन को देती हैं.

6. उन्होंने ही प्रियंका को इतनी अच्छी हिन्दी सिखाई. वे प्रियंका को श्री हरिवंशराय बच्चन की कविताएं सुनाती थीं और प्रियंका को उन्हें पढ़ने को कहती थीं.

7. 18 फरवरी साल 1997 में उनकी शादी दिल्ली के बिजनेसमैन रॉबर्ट वाड्रा से हुई. उनकी पहली मुलाकात एक दोस्त ओटेवियो क्वट्रोच के घर हुई थी.

8. 29 अगस्त साल 2000 में प्रियंका ने एक बेटे को जन्म दिया. उसके बाद उन्होंने 24 जून साल 2002 में एक बेटी को भी जन्म दिया. जिनके नाम रेहान व मिराया है. कई बार चुनाव अभियान में प्रियंका अपने बच्चों के साथ दिखाई दे चुकीं हैं.

9. शादी के बाद वे खुद को प्रियंका गांधी कहलाना खास पसन्द नहीं करती. एक रोड शो के दौरान उन्होंने एक रिपोर्टर से कहा था कि कृपया मुझे प्रियंका वाड्रा कहा करें.

10. अपने भाई राहुल गांधी से उम्र में छोटी प्रियंका बचपन से ही काफी स्मार्ट और सुंदर अपनी दादी की छवि वाली हैं. उनका दमदार व्यक्त‍ित्व भी दादी की तरह ही है.

11. सबसे गर्व की बात यह है कि उनके उनके पिता राजीव गांधी, दादी श्रीमती इंदिरा गांधी और दादी के पिता जवाहरलाल नेहरु तीनों ही भारत के प्रधानमंत्री रह चुके हैं.

12. प्रियंका गाँधी की भूमिका को राजनीति में विरोधाभास के तौर पर देखा जाता है, हालांकि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी के लिए लगातार चुनाव प्रचार के दौरान इन्होंने राजनीति में कम रूचि लेने की बात भी कही है.

13. साल 1999 के चुनाव अभियान के दौरान, एक इंटरव्यु में उन्होंने कहा कि उनके दिमाग में यह बात बिल्कुल साफ है कि राजनीति शक्तिशाली नहीं, बल्कि जनता अधिक महत्वपूर्ण होती है और वे जनता की सेवा राजनीति से बाहर रहकर भी कर सकती हैं.

14. प्रियंका अपनी माँ और भाई के निर्वाचन क्षेत्रों रायबरेली और अमेठी में नियमित रूप से दौरा किया और जहां उन्होंने लोगों से सीधी बात भी की और इसका आनंद भी लिया. वह निर्वाचन क्षेत्र में एक लोकप्रिय महिला रहीं हैं.

15. साल 2004 के भारतीय आम चुनाव में, वह अपनी माँ (सोनिया गाँधी) की चुनाव अभियान प्रबंधक थी और अपने भाई (राहुल गाँधी) के चुनाव प्रबंधन में मदद भी की.

16. साल 2007 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में, वह अमेठी रायबरेली क्षेत्र के दस सीटों पर ध्यान केंद्रित कर, वहां दो सप्ताह बिता कर उन्होनें पार्टी कार्यकर्ताओं में अंदरूनी कलह को सुलझाने की कोशिश भी की.

17. प्रियंका एक अच्छी इलेक्शन आर्गेनाइजर और अपनी मां की सलाहकार भी हैं. अपनी मां और भाई की राजनीतिक सलाहकार के अलावा वे राजनीति में कोई खास जगह नही चाहतीं. उनके लिए सबसे पहले उनके बच्चे और परिवार है.

18. प्रियंका की राजनीतिक सक्रियता और परिवार के बीच उनका तालमेल आज बहुत से लोगों के लिए प्रेरणादायी है, लेकिन भारत को इंदिरा गांधी की तरह प्रियंका ‍के दमदार नेतृत्व का इंतजार रहेगा.

Loading...

Comments

comments