Home Azab Gazab यहां मुर्दों को देना पड़ता है हर महीने कब्र का किराया!

यहां मुर्दों को देना पड़ता है हर महीने कब्र का किराया!

SHARE

इंसान अपने जीते जी तो पूरी जिंदगी जद्दोजहद करता ही रहता है और लोगों का कहना है कि उसको मरने के बाद ही सुकून मिलता है. लेकिन हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बता रहे हैं, जहां मरने के बाद भी लोगों को सुकून नहीं मिलता है. जी हां ऐसी ही एक जगह है ग्वाटेमाला में किराए के कब्रिस्तान, जहां मरने के बाद भी मुर्दों को सुख नसीब नहीं होता है.

Image: www.gajabdunia.com

यहां के कब्रिस्तान कई मंजिला बने हुए हैं, जहां मुर्दों को रखने के लिए उनके परिवारवालों को हर माह किराया देना पड़ता है.

Image: www.gajabdunia.com

अगर किसी शव के परिवार वाले माह का किराया नहीं देते हैं तो अगले माह उस शव को निकाल कर सामूहिक कब्र में अन्य शवों के साथ डाल दिया जाता है.

Image: www.gajabdunia.com

ये बहुमंजिले कब्रिस्तान यहां इसलिए बनाए गए हैं क्योंकि यहां जगह की कमी है. इसमें एक के उपर एक कब्र बनी होती है और अगर किराया नहीं दिया जाता है तो वहां से पुराने शव को निकाल कर नए शव को दफना दिया जाता है.

Image: www.gajabdunia.com

यहां कब्र का किराया इतना महंगा है कि मृतकों के परिजन हमेशा इस भय में रहते हैं कि न जाने कब उनके प्रिय परिजन के शव को बाहर निकाल दिया जाएगा.

Image: www.gajabdunia.com

यहां कब्रिस्तान में आपको कई ऐसे नजारे देखने को मिल जाएंगे कि किराया न देने पर कुछ शवों को कब्र से बाहर निकाल दिया गया है. प्रशासन का कहना है कि ज्यादा आबादी और कम जगह के चलते ऐसे नियम बनाए गए हैं. यहां अमीर लोग तो अपने जीते जी कब्र की रकम का इंतजाम कर लेते हैं, लेकिन गरीबों के लिए यह परेशानी का सबब है.

Image: www.gajabdunia.com

प्रशासन ने हर शहर के बाहर एक सामूहिक ग्राउंड बनवाया है जहां उन शवों को दफनाया जाता है जिनके परिजन किराया नहीं भर पाते हैं.

Image: www.gajabdunia.com

कुल मिलाकर यह है कि मरने के बाद भी चैन नसीब नहीं होता है ग्वाटेमाला के लोगों को. यहां फैली गरीबी के चलते कई लोग अपने परिजनों को खुद ही सामूहिक कब्रिस्तान में अवैध तरीके से दफना देते हैं.

Facebook Comments