कोरोना वायरस के कितने स्टेज हैं और कौन सी स्टेज पर पहुंचा भारत?

Explainer Health

कोरोना वायरस के मामलों की संख्‍या रोज बढ़ रही है. पिछले 24 घंटों में 1553 नए मामले सामने आ चुके है.. इसके साथ भारत में कुल मामलों की संख्‍या बढ़कर 17,265 हो गई है. COVID-19 महामारी ने देश में अबतक 543 लोगों की जान ले ली है. तेजी से बढ़ते ये आंकड़े डराते हैं. कहीं हम महामारी की स्‍टेज- 3 की ओर तो नहीं बढ़ रहे. आज हम आपको बताएंगे की कोरोना के कितने स्टेज है और ये स्टेज कैसे तय किए जाते हैं? कौन बताता है कि बीमारी किस लेवल तक फैली है? आइए जानते हैं…..

स्टेज 1- जो लोग संक्रमित देश जैसे चीन, इटली जैसे देशों से आए हैं, वह चपेट में आते हैं. मतलब चीन के वुहान से शुरू इस वायरस से संक्रमित लोग जब अन्य देशों में पहुंचकर बांकी लोगों को संक्रमित करते हैं तो उसे स्टेज 1 की ज्ञेणी में रखा जाता है . जैसे केरल में हुआ. वहां के स्टूडेंट चीन के वुहान में पढ़ रहे थे. वहां से भारत आने पर उनमें केवल इन्फेक्शन की आशंका थी. लक्षण दिखते ही उन्होंने डॉक्टर से सम्पर्क किया. इस चरण में संक्रमित व्यक्ति की पहचान हो जाती है. क्योंकि वो बाहर से आए होते हैं. अगर उन सबकी पहचान करके उन्हें छांट लिया जाए, तो वायरस इस स्टेज से आगे बढ़ ही नहीं पाएगा.

स्टेज 2-वह स्टेज है जहां विदेश से आए लोगों के संपर्क से संक्रमण बढ़ने की आशंका होती है. उदारण के रूप में वो लोग जो चीन के वुहान से आए थें उन्हें पता नहीं था कि वो इस वायरस से संक्रमित हैं. ऐसे में उनका अन्य लोगों से मिलना- जुलना होता, इस प्रक्रिया में वायरस का संक्रमण बढ़ता चला गया और इस तरह वायरस उसके आसपास के लोगों में फैलता चला गया .

स्टेज 3- जब वायरस संक्रमित लोगों के आसपास मौजूद दूसरे लोगों में फैलने लगता है. वो लोग जो अभी अभी किसी संक्रमित व्यक्ति से मिलकर आए हैं और लोगों से मिल जुल रहे हैं . ऐसे में वायरस बड़े स्तर पर लोगों में फैलता है जिसे स्टेज 3 में रखा गया है . कम्युनिटी ट्रांसमिशन थर्ड स्टेज होती है. यह तब आती है जब एक बड़े इलाके के लोग वायरस से संक्रमित पाए जाते हैं. स्‍टेज 3 को रोकने के लिए ही लॉकडाउन किया जाता है. लोगों को घरों में ही रहने को कहा जाता है. इससे जब किसी नए को वायरस पकड़ता है तो वह बीमार पड़ने पर अस्‍पताल जाएगा. इससे कोरोना के बचे हुए मामले ट्रैक हो जाते हैं. साथ ही कोरोना से पीड़‍ित व्‍यक्ति अपने घरवालों के अलावा किसी और को इन्‍फेक्‍ट नहीं करता.

स्टेज 4- इस स्‍टेज में महामारी पर कोई कंट्रोल नहीं रहता. कहीं से भी नए मामले सामने आने लगते हैं. देश के अधिकतर हिस्‍से पर वायरस का कब्‍जा हो जाता है. जैसे फिल्हाल अमेरिका और इटली की स्थिति है. वहां संक्रमण का चौथा चरण चल रहा है. भारी मात्रा में लोग संक्रमित हैं.

बता दें कि कोई भी बीमारी किस चरण तक पहुँची है इसका फैसला उस क्षेत्र में फैलने वाले संक्रमण के आंकड़े और बीमारी से होने वाले मौत के आकड़ों से तय किया जाता है.

भारत में कोरोना का अभी कौन सा चरण है, पूछे जाने पर मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा, “भारत अभी दूसरे ओर तीसरे चरण के बीच की स्थिति में है. तीसरे चरण में पहुंचने से रोकने के लिये ही प्रयास किए जा रहे हैं.”