BMC ने कोर्ट से कहा, अभिनेता सोनू सूद आदतन अपराधी

अभिनेता सोनू सूद इस वक्त विवादों में चल रहें हैं. बृह्नमुंबई नगर निगम यानी बीएमसी का कहना है कि सोनू एक आदतन अपराधी हैं जो अवैध निर्माण से पैसा कमाना चाहते हैं. बीएमसी ने बॉम्बे हाईकोर्ट में अपने हलफनामें कहा कि सोनू सूद के अवैध निर्माण को दो बार गिरा दिया गया था. इसके बावजूद वो जुहू स्थित एक रिहायशी इमारत का निर्माण करा रहे हैं. बीएमसी ने बताया कि पिछले साल अक्टूबर में सोनू सूद को अवैध निर्माण के बारे में नोटिस जारी की गई थी.

source-twitter

उन्होंने नोटिस को दीवानी अदालत में चुनौती दी पर उनकी याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दिया गया था. बीएमसी ने कोर्ट में कहा कि सोनू सूद कॉमर्शियल होटल का निर्माण करा रहे थे. इनके पास रेजिडेंशियल बिल्डिंग को कॉमर्शियल इस्तेमाल करने के लिए भी लाइसेंस नहीं था.

बीएमसी ने अभिनेता सोनू सूद के खिलाफ जुहू पुलिस स्टेशन में शिकायत भी दर्ज करायी है. बीएमसी ने बताया कि सोनू सूद मुंबई स्थित AB नायर रोड पर बिना अनुमति के शक्ति सागर बिल्डिंग को होटल बना रहे हैं. बीएमसी के अनुसार पहली बार सोनू सूद पर अवैध निर्माण के लिए  साल 2018 में कार्यवाही की गई थी और 12 नवंबर को अवैध निर्माण को गिरा दिया गया था.

इस बीच सोनू सूद ने मंगलवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी यानी एनसीपी के प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की. सोनू सूद का कहना है कि वे कोई अवैध निर्माण नहीं करा रहे हैं. कुछ लोग उन्हें बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं.

अभिनेता सोनू सूद हाल ही में तब चर्चा में आये थे जब उन्होंने लॉकडाउन में हज़ारों प्रवासी मज़दूरों को उनके घर भेजा.