ऑस्ट्रेलिया में चूहों का आंतक, महामारी फैलने की आंशका

ऑस्ट्रेलिया में मुसीबतें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. कोरोना महामारी के बीच देश के जंगलों में आग लगी, इस वक्त देश के कई राज्यों में बाढ़ आ गई है. अब देश मेंं एक और समस्या चुहों के कारण उत्पन्न होती दिख रही है. ऑस्ट्रेलिया के स्थानीय दुकानदार सारा दिन चूहे पकड़ने में लगा दे रहे हैं.

ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स और क्वींसलैंड में अचानक चूहों की संख्या बढ़ गई है. हालात यह है कि कई होटलों, दुकानों और रेस्त्राओं को बंद करना पड़ा है. अस्पतालों और घरों में लोग चूहे पकड़ कर वीडियों सोशल मीडिया पर डाल रहे हैं.

17वीं शताब्दी से पहले ऑस्ट्रेलिया में चूहे नहीं पाए जाते थे. पहली बार साल 1787 में ऑस्ट्रेलिया में चूहे देखे गए. जांच पर पता चला कि ये चूहे व्यापार के दौरान ब्रिटेन से जहाज के द्वारा ऑस्ट्रेलिया पहुंचे हैं.

Source- News Medical

चीन से आए हैं चूहे

दुनिया के सभी देशों में चूहे चीन से आए हैं. यूरोपियन देशों में ऐसा माना जाता है कि चूहे चीन की देन है. जानकारों के मुताबिक करीब 2 हजार साल पहले चीन की वजह से प्लेग एक देश से दूसरे देश फैलने लगा था. व्यापार के कारण आने वाले जहाजों के साथ चूहे भी आ जाते थे. इसका प्रमाण साल 1347 में मिला जब चीन से इटली आए 12 जहाजों में बीमार चूहे भी आ गए थे और बाद में पूरी इटली प्लेग के चपेट में आ गई. 5 सालों के भीतर चूहों की वजह से करीब 20 मिलियन लोगों की जाने गई. इस जहाज को तब से डेथ शिप कहा जाने लगा.

Source- Medical News Today

साल 1983 में 96 मिलियन ऑस्टेलियन डॉलर का अनाज चट कर गए चूहे

जब साल 1783 में पहली बार चूहे ऑस्ट्रेलिया पहुंचे तब से औसतन हर चार साल बाद चूहे फसल और भंडारण को नुकासान पहुंचाने लगे. लेकिन चूहों ने सबसे ज्यादा नुकसान साल 1983 में किया. ऑस्ट्रेलिया के विभिन्न राज्यों में चूहों ने करीब 96 मिलियन ऑस्ट्रेलियन डॉलर का अनाज बरबाद कर दिया.

Source- The Guardian

ऑस्ट्रेलिया में चूहे अनाजों के अलावा जानवरों को भी नुकसान पहुंचाते हैं और उन्हें बीमार कर देते हैं. साल 1993 में चूहों ने रबर और इलेक्ट्रिकल कारखानों को बुरी तरह तहसनहस किया. ऑस्ट्रेलियाई सरकार आज तक चुहों के उस हमले की वजह नहीं जान पाई.

फिर से महामारी फैलने का डर-

ऑस्ट्रेलिया के लोगों को अनाज के नुकसानों के अलावा महामारी फैलने का डर सता रहा है. कई लोगों के पानी की टंकी में चूहें मरे मिले हैं जिसके बाद लोगों का डर और भी बढ़ गया है