धारा-144, कर्फ्यू और लॉकडाउन में क्या अंतर है?

साल 2019 के अंत में जब कोरोना वायरस आया तो किसी ने नहीं सोचा था कि ये वायरस देश-दुनिया के लोगों को अपने घरों में बंद रहने पर मजबूर कर देगा. साल 2020 कोरोना वायरस की खबरों से भरा रहा. इन सबके बीच एक नया शब्द सुनने को मिला लॉकडाउन. सरकार ने लॉकडाउन में सभी को अपने घरों में रहने का आदेश दिया.

क्या आपने सोचा है कि लॉकडाउन शब्द कहां से आया? लॉकडाउन को समझने से पहले धारा 144 और कर्फ्यू को समझना जरुरी है.

धारा 144-

CRPC यानी कोड ऑफ क्रिमिनल प्रोसीजर की धारा 144 अनुसार किसी क्षेत्र में कानून व्यवस्था बिगड़ने पर बड़े अधिकारियों जैसे डीएम, एसडीएम और मजिस्ट्रेट को अपने क्षेत्र में निषेध लगाने अधिकार मिल जाता है. धारा 144 एक व्यक्ति पर भी लागू हो सकता है और पूरे क्षेत्र पर भी पर लागू हो सकता है. धारा 144 के अंतर्गत शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सरकार मोबाइल नेटवर्क को भी बंद कर सकती है. सरकार हर वो काम कर सकती है जिससे उस इलाक़े में शांति बनी रहे.

कर्फ्यू –

लोगों को सड़कों से दूर और एक जगह इकट्ठा होने से रोकने के लिए एक विशेष क्षेत्र में लगाया जाता है. कर्फ्यू के आदेश को सभी को मानना पड़ता है. कर्फ्यू कुछ घंटे या कुछ महीनों के लिए भी लगाया जा सकता है.

लॉकडाउन-

अमेरिका में सबके पास हथियार होना आम बात है. अमेरिका में हथियार लेने के लिए लाइसेंस की जरुरत नहीं होती है क्योंकि अमेरिका में हथियार रखना संविधान के मौलिक अधिकार के अन्तर्गत आता है. अमेरिका में साल 1970 में कुछ लोगों ने एक स्कूल पर गोलीबारी की. तब बच्चों को बचाने के लिए उन्हें एक कमरे में बंद कर दिया गया. 70 के दशक के इस घटना के बाद लॉकडाउन शब्द का प्रयोग होने लगा.

source-vecteezy

लॉकडाउन में  बैंक, एटीएम, गैस एजेंसी, डाकघर, फायर ऑफिस, अस्पताल और मेडिकल स्टोर को छोड़कर सभी सेवाएं बंद रहती है. यानी सिर्फ़ ज़रूरत की चीजें ही खुली रहती हैं. लॉकडाउन में सभी को अपने घर में रहने के लिए कहा जाता है और केवल आवश्यक कार्यो के लिए ही बाहर जाने की अनुमति होती है.

लॉकडाउन और कर्फ्यू में अंतर-

  • कर्फ्यू के दौरान सभी सेवाएं बंद रहती है, जबकि लॉकडाउन में कुछ ढील दी जाती है.
  • आम तौर कर्फ्यू सांप्रदायिक दंगे या आंतकी घटना की वजह से लगाया जाता है और लॉकडाउन किसी विशेष परिस्थिति में लगाया जाता है.
  • कर्फ्यू को एक तय सीमा तक लगाया जाता है लेकिन आम तौर पर लॉकडाउन की अवधी लम्बी होती है.

इस मुद्दे को और समझने के लिए ये वीडियो देखिये –