बकरीद को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ का आदेश, एक स्थान पर 50 से ज्यादा लोग इकट्ठा होने पर होगी कार्रवार्ई

ईद उल अजहा (बकरीद) को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिया है कि कोरोना को देखते हुए ईद के मौके पर किसी भी स्थान पर 50 से अधिक लोग जमा न हों. इसके अलावा प्रशासन यह सुनिश्चित करे कि कहीं भी गाय/ऊंट अथवा किसी अन्य प्रतिबंधित जानवरों की कुर्बानी न हो. ऐसा करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए.

मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से जारी आदेश में कहा गया है कि जानवरों की कुर्बनी सार्वजनिक स्थानों पर नहीं की जाएगी. कुर्बानी केवल चिन्हित स्थलों पर ही होनी चाहिए. इस दौरान साफ-सफाई का भी विशेष ध्यान रखा जाए. वहीं यूपी के कई मु्स्लिम धर्म गुरुओं ने कोरोना संक्रमण के कारण बकरीद की नमाज घर के पास के मस्जिदों में अदा करने की अपील की है.

मुस्लिम धर्मगुरुओं की अपील, कोरोना प्रोटोकॉल को हो पालन-

शिया जामा मस्जिद के प्रवक्ता हाजी फरमान हैदर ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि बकरीद के दिन सभी मुस्लिम भाई कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें. साफ-सफाई रखें और मस्जिदों में भीड़ न जमा करें. नमाज मोहल्ले के मस्जिदों में ही अदा करें.

वहीं कैराना में जामा मस्जिद के खतीब मौलाना ताहिर हसन ने बकरीद के त्योहार मद्देनजर रखते हुए वीडियो जारी किया. जिसमें उन्होंने बताया कि कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए इस साल ईद-अल-अजहा की नमाज ईदगाह में नहीं होगी. सभी अपनी-अपनी मस्जिदों में कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए नमाज अदा करें.

21 जुलाई को मनाया जाएगा ईद-उल-अजहा-

इस्लाम धर्म का दूसरा सबसे बड़ा त्योहार बकरीद है. इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार 12वें महीने की 10 तारीख को बकरीद मनाया जाता है.