Corona vaccine : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा इन बड़े नेताओं ने कोरोना का टीका लगवाया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1 मार्च को दिल्ली के एम्स में कोरोना का टीका लगवाया. उन्हें कोवैक्सिन का टीका लगाया गया. टीका लगवाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत को कोरोना मुक्त बनाना है. पीएम मोदी के अलावा आज कई और बड़े नेताओं ने कोरोना का टीका लगवाया. जिसमें उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू और बिहार के सीएम नीतीश कुमार प्रमुख हैं. इन सभी लोगों को कोरोना के टीके का फ़र्स्ट डोज़ लगाया गया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को असम का पारंपरिक गमछा गले में डालकर दिल्ली स्थित AIIMS पहुंचे. यह गमछा असम की महिलाओं के आशीर्वाद का प्रतीक माना जाता है. पीएम नरेंद्र मोदी को पुडुचेरी की नर्स पी निवेदा ने कोरोना का टीका लगाया. इस दौरान केरल की नर्स रोसम्मा अनिल पास में खड़ी थीं. गौरतलब है कि केरल, पुडुचेरी और असम में 27 मार्च से 6 अप्रैल तक विधानसभा चुनाव होने वाले हैं.

Source- The News Minute

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वैक्सीन लगवाने के शेड्यूल की जानकारी पहले से नहीं थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अचानक सुबह AIIMS पहुंच कर सबको चौंका दिया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैक्सीन लगवाते हुई तस्वीर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर शेयर की. उन्होंने टीका लगवाकर आम लोगों के मन से तमाम तरह की शंकाएं दूर करने का प्रयास किया. इसके साथ ही विपक्ष के नेताओं को भी जवाब दिया है जिन्होंने वैक्सीन को लेकर सवाल उठाए थे.

वैक्सीन लगवाने की अपील-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर लिखा कि हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने COVID-19 के खिलाफ वैश्विक लड़ाई को मजबूत करने के लिए असाधारण काम किया है. मैं सभी योग्य लोगों से अपील करता हूं, वैक्सीन जरूर लगवाएं. हमें साथ में मिलकर भारत को COVID-19 मुक्त बनाना है.

दूसरे फेज में गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों का टीकाकरण-

1 मार्च से कोरोना टीकाकरण के दूसरे फेज की शुरुआत हो चुकी है. इस फेज में 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोग जो पहले से किसी बीमारी से ग्रस्त हैं उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी. टीकाकरण कार्यक्रम शाम के तीन बजे तक चलेगा.

source-the quint

टीका लगवाने के लिए Co-Win एप और आरोग्य सेतु एप पर रजिस्ट्रेशन करना होगा. टीका लगवाने के लिए पहचान पत्र साथ ले जाना अनिवार्य है.