Home Religion क्यों कहा जाता है औरत को शक्ति का रूप ? क्यों मनाते...

क्यों कहा जाता है औरत को शक्ति का रूप ? क्यों मनाते हैं करवाचौथ ?

SHARE

एक औरत की जिंदगी में सबसे महत्वपूर्णं इंसान होता है उसका पति, जिसके लिए वो अपना घर छोड़कर उसके (पति) घर चली आती है. भारतीय महिलायें अपने उस पति की लम्बी आयु के लिए करवाचौथ का व्रत (उपवास) रखती है. उसकी जिंदगी में ये पर्व बहुत ही खास और महत्वपूर्ण होता है. ज्यादातर लड़कियां बचपन से इसे करने में दिलचस्पी रखती हैं.

इस बार कब है करवाचौथ ?

करवाचौथ
source : Current Crime

इस साल करवाचौथ 8 अक्टूबर (रविवार) को मनाया जाएगा. इस दिन का इंतजार हर महिला करती है और इसी बहाने से उसे अच्छे से सजने-संवरने का मौका भी मिल जाता है. करवाचौथ से जुड़ी ऐसी बहुत सी बातें होंगी जो शायद एक शादी शुदा महिला भी नहीं जानती होगी.

करवाचौथ मनाने का क्या है कारण ?

करवाचौथ
source : YouTube

औरत को शक्ति का रूप माना गया है औप उसे वरदान भी है कि वो किसी भी चीज के लिए तप करके उसे पा सकती है. उस तप का फल उसे जरूर मिलता है. पौराणिक कथा के अनुसार, सावित्री अपने पति के प्राण यमराज से वापस ले आती है.

अपने पति को वापस लाने के लिए सावित्री ने बहुत तप किये और कई महीनों तक भूखी-प्यासी रहकर सफल हुई. उसके बाद से हर महिला इसे करवाचौथ के रूप में मनाने लगी और अपने पति की लंबी आयु के लिए व्रत करने लगी.

करवाचौथ
source : Khabar India

किसी चीज को त्यागकर आगे बढ़ना ही तप कहलाता है. महिलाएं इस दिन निर्जाल रहकर दिन भर खुद का ध्यान अपने सजने संवरने पर लगाती है जिससे उसका तप भूख लगने से भंग ना हो. चौथ का चांद हमेशा देर से ही निकलता है क्योंकि इस तप में महिलाओं की परिक्षा होती है जिसे करने की शक्ति उसके अंदर अपने आप आ जाती है.

फिल्म शेफ कैसी है ? सैफ अली खान ने कैसा काम किया है ?

यह भी पढ़ें : रिलायंस JIO का नया धमाका, इस प्लान में मिलेगा अनलिमिटेड डेटा

Facebook Comments