Home Religion ये 10 आदतें जिन्हें आप भी मानते होंगे ‘ओल्ड इज गोल्ड’

ये 10 आदतें जिन्हें आप भी मानते होंगे ‘ओल्ड इज गोल्ड’

आज हम 21वीं सदी में हैं, जिसमें यूथ्स बात सोशल मीडिया, पार्टीज, करियर में जल्दी से जल्दी आगे बढ़ना, यारी-दोस्ती को महत्व में की बात करते हैं. आज के यूथ्स करते सिर्फ अपने मन की हैं जहां लड़कियां छोटे-छोटे कपड़ों के साथ सेल्फ डिपेंडेड बन रही हैं, वहीं लड़के भी कम समय में ज्यादा पैसा कमाने की तरकीब सोचते रहते हैं.

इन सब में अगर कुछ नहीं बदल रहा है तो वो है पुराने जमाने के वो रीति-रिवाज और वो कुछ ऐसी आदतें और संस्कार जो हर धर्म और जाति के यूथ्स आज भी निभाते हैं. नहीं समझे ना ? तो चलिए बताते हैं आपको कि पुराने समय से आज के समय तक जो नहीं बदला है वो क्या है ?

आदतें जो आज भी उन्हीं उसूलों पर चल रही हैं –

1. पत्तल में भोजन :

आदतें
source : indianews

आज के समय में शादी या किसी भी सामारोह में जाओ तो एक प्लेट में अपने आप खाना निकालो और खाओ. मगर आज भी भारत के कई हिस्सों या कहीं भी धार्मिक कार्यक्रम होते हैं तो पत्तल सज जाता है. पत्तल में खाना खाने का आनंद चांदी की थाली में भी नहीं आता. अगर यकीन नहीं हो तो ट्राई कर लीजिए.

2. खाने से पहले प्रार्थना :

आदतें
source : wittyfeed

स्कूल में सिखाया जाता था कि टिफिन खोलने से पहले हाथ जोड़ो ईश्वर को धन्यवाद करों क्योंकि उन्होंने हमें खाना दिया है. ऐसी प्रथा आज भी बहुत से हिस्सों में होती है जहां सभी धर्म के लोग अपने-अपने ईश्वर को धन्यवाद करते हैं.

3. अपने धर्म के हिसाब से प्रार्थना :

आदतें
source : jagranjunction

आज का यूथ जितना बिगड़ जाए लेकिन भगवान या अपने-अपने धर्म के हिसाब से ईश्वर को मानना कभी नहीं भूलता. वे हमेशा ईश्वर की वंदना करते हैं और अपने हिसाब से अच्छे कामों में अपना योगदान देते हैं.

4. नमस्कार और खुश रहो बेटा :

आदतें
पुराने रीति-रिवाज

हम जब भी किसी बड़े का आशिर्वाद लेते हैं तो वे बोलतें है ‘खुश रहो बेटा’ और ये चलन आज से नहीं बल्की कई सदियों से चली आ रही है. घर में कोई मेहमान आता है या हम किसी से बाहर मिलते हैं तो नमस्कार जरूर कहते हैं. हां ये बात अलग है कि सबके तरीके अलग होते हैं जैसे – हैलो, हाय, सलाम, नमस्ते.  मगर सबके मतलब एक ही होते हैं.

5. शादी घर वालों की पसंद से :

आदतें
source : dainik jagran

आज के लड़के और लड़कियां बहुत जल्दी ही प्यार-मोहब्बत के चक्कर में पड़ जाते हैं. घूमते हैं, फिरते हैं और मजे करते हैं लेकिन अगर उनसे शादी की बात करो तो वे कहते हैं जब घरवाले करवा दें. आगर आज हम सर्वे करवाएं तो लगभग 75% का यही मानना होगा कि उनकी शादी घरवालों की मर्जी से होगी.

6. जूते-चप्पल बाहर उतारना :

आदतें
source : News Track

भारतीय घरों में आज भी ज्यादातर घरों में ये चलन है कि जूते-चप्पल घर के बाहर उतारे जाते हैं. ऐसा घर में आने वाले मेहमान के साथ-साथ घर में रहने वाले भी करते हैं. बुजुर्गों का मानना होता है कि इससे बाहर की बुरी बलाएं घर में नहीं आती हैं.

7. देर रात बाहर नहीं घूमना :

आदतें
source : koreabizwire

देर रात में लड़कियों को नहीं घूमना चाहिए, ये तो आप अक्सर सुनते ही होंगे लेकिन भारत में आज भी कई ऐसे घर हैं जहां पैरेंट्स लड़को को भी रात में घूमने से मना करते हैं. ये बात अलग हैं जो अपने पैरेंट्स को कुछ नहीं समझते वे मनमानी करते हैं लेकिन जो समझते हैं वे उनकी बात का सम्मान आज भी करते हैं.

8. ग्रंथ पढ़ना :

आदतें
source : Explore My India

आज का यूथ हर दिन प्यार के चक्कर में पड़ता है, उसका दिल टूटता है फिर वो कविता, शायरियों में डूब जाता है. यही कहानी रह गई है और जब भी उन्हें ज्ञान लेना होता है तो कोई ग्रंथ खोलकर बैठ जाते हैं. आज भी ये चलन कायम है, यकीन ना हो तो आप सर्वे करवा सकते हैं.

9. साड़ी और चूड़ी-बिंदी :

source : YouTube

आज के समय में लड़कियों को वेस्टर्न ड्रेस बहुत भा रही है लेकिन अगर उनकी सबसे फेवरेट ड्रेस के बारे में पूछे तो आज भी वे साड़ी, बिंद, चूड़ी और सजने की बातें करती हैं. वे जमाने के हिसाब से जितना बदल जाएं लेकिन भारतीय नारी की ओल्ड वुमन वाली आदतें नहीं बदल सकती. लड़कों को भी लाइफ पार्टनर के तौर पर वेस्टर्न नहीं बल्कि साड़ी वाली लड़कियां ही भाती हैं.

10. मेला :

आदतें
source : dgreetings

जमाना कहां का कहां निकल गया है. आज हम नई-नई तकनीकों को खोजने और सोशल मीडिया पर इतने बिजी हो गये हैं कि पब्लिक प्लेज पर जाने की सोच दूर रखते हैं लेकिन भारत के बहुत से हिस्सों में मेले का मजा आज भी कुछ और ही है.

जिग्नेश मेवाणी कौन है ? 

यह भी पढ़ें : गुजरात के Kite Festival के बारे में कुछ रोचक बातें जानिये

जापानी टू व्हीलर कंपनी kawasaki ने भारत में लॉन्च कर दी है ये दमदार क्रूजर बाइक