Home Health ऐसा क्या था इस Ad में कि Breast दिखाने पर भी Ban...

ऐसा क्या था इस Ad में कि Breast दिखाने पर भी Ban नहीं किया गया इसे

SHARE
loading...

ब्रेस्ट सुनते ही सब सिर्फ एक ही चीज़ के बारे में सोचते हैं. इसे शरीर के बाकी अंगों की तरह नहीं देखा जाता. लोग इसे मातृत्व से जोड़कर नहीं बल्कि अश्लीलता से जोड़कर देखते हैं. इसे सिर्फ वल्गर समझा जाता है. यहाँ तक की सोशल मीडिया में तो ब्रेस्ट दिखाने पर भी पाबंदी है चाहे वो माँ बच्चे के संबंध को दिखाने के लिए ही क्यों न हो.

अगर किसी तस्वीर में माँ अपने बच्चे को दूध पिला रही हो तो उसे एडल्ट कंटेंट में डाल दिया जाता है. औरतों के शरीर से जुड़ी बीमारियों को दर्शाने के लिए भी निप्पल्स नहीं दिखाया जा सकता है. ब्रेस्ट कैंसर के लिए जागरूकता बढ़ाने वाले ads में भी ब्रेस्ट दिखाने पर बैन लगा है.

फेसबुक पर हो या इंस्टाग्राम, आप कहीं भी ब्रेस्ट कैंसर से जुड़ा कोई भी अवेयरनेस पोस्ट बिना ब्रेस्ट या निप्पल दिखाए ही कर सकते हैं वरना इसे बैन कर दिया जाता है. इस तरह की दोहरी मानसिकता का जवाब दिया है एक ad एजेंसी ने.

जी हाँ, अर्जेंटीना की एक Ad Agency ने एक ऐसा ad बनाया है जिसमे ब्रेस्ट खुले रूप से दिखाए गए हैं बिना किसी सेंसर के. डेविड नाम की इस एजेंसी ने जनहित में एक वीडियो बनाया है जिसमे हर जगह आपको सिर्फ और सिर्फ बूब्स दिखेंगे.

हर रंग और साइज के ये ब्रेस्ट बिना किसी बैन के दिखाए जा रहे हैं. इसकी वजह है एक बेमिसाल आईडिया.

इस ad के वीडियो में इन्होने ब्रेस्ट के मुँह बना दिए हैं. इसमें निप्पल्स की जगह मुँह दिखाई देते हैं जो ब्रेस्ट कैंसर के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां देते हैं. इस आईडिया के चलते अब ये बिलकुल भी वल्गर नहीं लग रहा और कैंसर की जागरूकता को भी बढ़ा रहा है.

देखें वीडियो:

बता दें की दुनिया भर में लगभग हर 8वें इंसान को Breast Cancer है और इनमें बहुत तादाद आदमियों की भी है.

पसंद आया? शेयर करें.