Home History देश के पहले घोटाले के बारे में जानिये कुछ बातें

देश के पहले घोटाले के बारे में जानिये कुछ बातें

चारा घोटाले के मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव को दोषी करार दे दिया गया है. चारा घोटाले के पहले भी देश में अनेकों घोटाले हो चुके हैं. जीप घोटाले को हमारे देश में आजादी के बाद हुए पहले घोटाले के रूप में माना जाता है. देश के पहले घोटाले के बारे में जानिये कुछ बातें

1. आजादी के बाद साल 1948 में पाकिस्तानी सेनाओँ ने भारतीय सीमाओं में घुसपैठ करना शुरु कर दिया था.

2. भारत की सीमाओँ के रक्षा और निगरानी के लिए भारतीय सेना को लगभग 4600 जीपों की जरूरत थी. जीपों की सहायता भारतीय सैनिक आसानी से सीमाओं की निगरानी और रक्षा कर सकते थे.

3. उस समय ब्रिटेन में भारत के उच्चायुक्त के पद पर वी के मेनन कार्यरत थे. वी के मेनन भारतीय सैनिकों के जीप खरीदवाने के लिए आगे आये.

पहले घोटाले
Source-Scam Leaks

4. वी के मेनन के आधार पर रक्षा मंत्रालय ने उस समय 300 पाउंड प्रति जीप के हिसाब से 1500 जीपों के लिए आदेश दिया और पैसे जारी कर दिये.

5. सीमाओं की निगरानी और जीपों की खरीददारी के लिए पैसे जारी करने के 9 महीने बाद तक एक भी जीप भारतीय सेना को नहीं दी जा सकी.

6. साल 1949 में तत्कालीन मद्रास एवं वर्तमान चेन्नई बंदरगाह पर मात्र 155 जीपों की पहली खेप आई.

7. मात्र 155 जीपें आने के बाद भी उनमें से अधिकतर तय मानकों के अनुसार नहीं थीं. भारतीय सीमाओं की निगरानी करने में वे असमर्थ सिद्ध हो गईं.

8. मामले की जांच होने पर जीप की डील के मध्यस्त वी के मेनन दोषी पाये गये.

9. दोषी करार होने के बाद भी वी के मेनन पर कोई खास कार्यवाही सरकार या अदालत की तरफ से नहीं हुई.

10. साल 1955 में जीपों के घोटाले के इस केस को बेद भी कर दिया गया.

11. कुछ समय बाद ही वी के मेनन को प्रधानमंत्री नेहरू की कैबिनिट में जगह भी मिल गई थी.

12. रक्षा मंत्री के पद पर बैठने वाले वी के कृष्ण मेनन पर करीब 80 लाख रुपये के घोटाले का आरोप था.