Home Azab Gazab ब्रिटिश महारानी आज भी इतने देशों पर करती हैं राज

ब्रिटिश महारानी आज भी इतने देशों पर करती हैं राज

SHARE

ब्रिटिश महारानी एजिलाबेथ द्वितीय आज भी दुनिया के अनेकों देशों में बिना पासपोर्ट के घूम चुकी हैं. एक समय कहा जाता था कि ब्रिटिश साम्राज्य में सूरज कभी भी नहीं छुपता है. द्वितीय विश्व युद्ध के बाद ब्रिटिश साम्राज्य से अनेकों देश आजाद हुए लेकिन आज भी कई देशों के ऊपर ब्रिटिश महारानी का राज है.

कनाडा

उत्तर अमेरिका महाद्वीप में बसे कनाडा का क्षेत्रफल 99.84 लाख वर्ग किलोमीटर है औऱ यहां की आबादी 3.5 करोड़ है.

ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलिया का क्षेत्रफल 76.92 किलोमीटर है वहीं इसकी आबादी 2.34 करोड़ है.

न्यूजीलैंड

दक्षिण प्रशांत महासागर में स्थित न्यूजीलैंड का क्षेत्रफल 2.68 लाख वर्ग किलोमीटर है और इसकी आबादी 48.54 लाख है.

पापुआ न्यू गिनी

दक्षिण प्रशांत महासागर में स्थित पापुआ न्यू गिनी का क्षेत्रफल 4.62 लाख वर्ग किलोमीटर है और इसकी आबादी 80.84 लाख रुपये है.

जमैका

कैरेबियन सागर में स्थित जमैका का क्षेत्रफल 10.99 हजार वर्ग किलोमीटर है और इसकी आबादी 28.81 लाख है.

एंटीगुआ एंड बारबुडा

कैरेबियन सागर में स्थित एंटीगुआ एंड बारबुडा का क्षेत्रफल 440 वर्ग किलोमीटर है और इसकी आबादी 1 लाख है.

बहमास

अटलांटिक महासागर में स्थित क्षेत्रफल 13.87 वर्ग किलोमीटर है और इसकी आबादी 3.91 लाख है.

Source-DW

बारबोडस

कैरेबियन सागर में स्थित बारबाडोस का क्षेत्रफल 439 वर्ग किलोमीटर है और इसकी आबादी 2.77 लाख है.

बेलीज

उत्तर अमेरिकी महाद्वीप में स्थित बेलीज का क्षेत्रफल 22.96 हजार लर्ग किलोमीटर है और इसकी आबादी 3.87 लाख है.

ग्रेनाडा

दक्षिण पूर्वी सागर में स्थित 348.5 वर्ग किलोमीटर में स्थित ग्रेनाडा की आबादी 1.07 लाख है.

सेंट किट्स एंड नेविस

कैरेबियन सागर में स्थित सेंट किट्स एंड नेविस का क्षेत्रफल 261 वर्ग किलोमीटर है और इसकी आबादी 55 हजार है.

ब्रिटिश महारानी
Source-DW.com

सेंट लुसिया

617 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्रफल में फैला कैरेबियन सागर में स्थित 1.78 लाख आबादी वाला देश सेंट लुसिया है.

5 लोग जो रातों रात इंटरनेट पर स्टार बन गये

छोटे पर्दे के विलेन्स को भी हुआ सच्चा प्यार, किसी ने सेट पर तो किसी ने जिम में किया इकरार

#MosqueMeToo कैंपेन क्या है, क्या मस्जिदों में भी होता है यौन उत्पीड़न ?

सिमॉन द् बुवॉ : समकालीन नारीवादी विचारक