Home Facts मानव शरीर के CPU कहे जाने वाले ‘दिमाग’ के बारे में कुछ...

मानव शरीर के CPU कहे जाने वाले ‘दिमाग’ के बारे में कुछ तथ्य जानिये

अक्सर आफने लोगों को यह कहते सुना ही होगा कि आज मेरा दिमाग काम करते-करते थक गया है या फिर मेरा दिमाग खराब हो गया है. दिमाग हमारे शरीर में कंप्यूटर के सीपीयू की तरह होता है जिसके बिना हमारा कोई भी काम करना मुश्किल होता है. मानव शरीर के सीपीयू कहे जाने वाले दिमाग के बारे में जानिये कुछ तथ्य

दिमाग के
Source-You Tube

1. अगर 5 से 10 मिनट तक दिमाग में ऑक्सीजन की कमी हो जाए तो यह हमेशा के लिए काम करना बंद कर देगा.

2. दिमाग पूरे शऱीर का में मौजूद खून का लगभग प्रतिशत से अधिक भाग इस्तेमाल करता है.

3. हमारे दिमाग के 60% हिस्से में चर्बी होती हैं इसलिए यह शरीर का सबसे अधिक चर्बी वाला अंग हैं.

4. दिमाग़ के बारे में सबसे पहला उल्लेख लगभग 6000 साल पहले की सुमेर सभ्यता से मिलता है.

5. छोटे बच्चे इसलिए ज्यादा सोते हैं क्योंकि उनका दिमाग़ उनके शरीर द्वारा बनाया गया 50% ग्लूकोज इस्तेमाल करता हैं.

6. 2 साल की उम्र तक बच्चे के दिमाग में सबसे ज्यादा Brain cells होती हैं.

7. एक दिन में हमारे दिमाग़ में लगभग 70,000 विचार आते हैं और इनमें से 70% विचार नकारात्मक प्रकृति के होते हैं.

8. हमारे आधे जीन्स दिमाग़ की बनावट के बारे में बताते हैं और बाकी बचे आधे जीन्स पूरे शरीर के बारे में बताते हैं.

9. हमारे दिमाग की क्षमता की कोई सीमा नहीं होती है बल्कि इसको हम जितना अधिक प्रयोग करेंगे यह उतना ही अधिक काम करेगा और उतना ही अधिक याद रख सकेगा.

10. हाथी के दिमाग का आकार उसके शरीर के मुकाबले सिर्फ 0.15% होता हैं जबकि मनुष्य का दिमाग उसके शरीर के आकार का लगभग 2% होता है.

11. जब हमें कोई इग्नोर या रिजेक्ट करता हैं तो हमारे दिमाग को बिल्कुल वैसा ही महसूस होता हैं जैसा चोट लगने पर.

12. बच्चों का दिमाग़ कहानियां पढ़ने से और सुनने से ज्यादा विकसित होता है क्योंकि किताबों को पढ़ने से बच्चे ज्यादा कल्पना करते हैं.

13. हर बार जब हम कुछ नया सीखते है तो दिमाग में नई झुर्रियां विकसित होती हैं और यह झुर्रियां ही IQ का सही पैमाना हैं.

14. हमारे पलक झपकने का समय 1 सेकेंड के 16वें हिस्से से भी कम होता है पर दिमाग़ किसी भी वस्तु का चित्र सेकेंड के 16वें हिस्से तक बनाए रखता हैं.

15. एक ही बात को काफी देर तक tension लेकर सोचने से हमारा दिमाग कुछ समय के लिए सोचने, समझने और निर्णय लेने की क्षमता को खो देता हैं.

16. दिमाग तेज करने के लिए सिर में मेहंदी लगाए और दही खाए क्योकिं दही में अमीनो ऐसिड होता हैं जिससे टेंशन दूर होती हैं और दिमाग़ की क्षमता बढ़ती हैं.

17. अगर आप अपने स्मार्टफ़ोन पर लम्बे समय तक काम करते हैं तब आपके दिमाग़ में ट्यूमर होने का खतरा बढ़ जाता हैं.

18. अगर दिमाग के “Amygdala” नाम के हिस्से को निकाल दिया जाए तो इंसान का किसी भी चीज से हमेशा के लिए डर खत्म हो जाएगा.

19. हमारे दिमाग़ में एक “मिडब्रेन डोपामाइन सिस्टम” (एमडीएस) होता है, जो घटने वाली घटनाओं के बारे में मस्तिष्क को संकेत भेजता हैं हो सकता की हम इसे ही अंतर्ज्ञान अथवा भविष्य के पूर्वानुमान कहते हैं. जिस व्यक्ति के दिमाग में यह सिस्टम जितना ज्यादा विकसित होता है वह उतनी ही सटीक भविष्यवाणी कर सकता हैं.

20. दिमाग तेज करने का सबसे आसान उपाय

दिमाग तेज करने के लिए हमें नियमित रूप से जमकर पानी पीना चाहिये. 1 गिलास पानी पीने से दिमाग 14% तेजी से काम करता हैं. जब तक प्यास शांत नही होती तब तक मनुष्य के दिमाग को ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई होती है.