Home Tech 360 आज से आधार नंबर की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी, VID जनरेट करके...

आज से आधार नंबर की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी, VID जनरेट करके पूरी कर सकेंगे KYC

SHARE

UIDAI के VID यानी वर्चुअल आईडी सिस्टम की शुरुआत हो चुकी है. अब कहीं भी KYC के लिये आपको अपने आधार कार्ड या आधार नंबर की जरूरत नहीं पड़ेगी. क्योंकि अब KYC के लिये आप 16 डिजिट की VID का प्रयोग कर सकेंगे. यूजर की प्राइवेसी को देखते हुए इस आईडी की शुरुआत की गई है. 31 अगस्त के बाद बैंक और दूसरे सर्विस प्रोवाइडर भी इस वर्चुअल आईडी पर शिफ्ट हो जाएंगे.

VID का फायदा ये है कि इससे यूजर की ज्यादा जानकारी शेयर नहीं होंगी. वर्चुअल आईडी शेयर करने पर सर्विस प्रोवाइडर को आधार नंबर की जगह एक यूआईडी टोकन मिलेगा. आधार नंबर के ऑथेंटिकेशन के वक्त केवल VID दे सकते हैं.

UIDAI
courtesy-ABP News

VID है क्या-

ये 16 डिजिट का एक टेंपरेरी नंबर होता है. UIDAI यूजर्स को हर आधार का एक वर्चुअल आईडी तैयार करने का मौका देगी. अगर किसी को कहीं अपने आधार की डिटेल देनी है तो वो 12 अंकों के आधार नंबर की जगह 16 अंकों का वर्चुअल आईडी दे सकता है. आपको बता दें कि VID जनरेट करने की सुविधा 1 जुलाई से अनिवार्य हो चुकी है.

आपको बता दें कि मौजूदा समय में एक दिन में सिर्फ 1 ही बार VID जनरेट की जा सकती है. इसे UIDAI के पोर्टल से जनरेट किया जा सकता है.

कैसे करें VID जनरेट-

  • UIDAI के होमपेज में जाकर अपना आधार नंबर डालें. इसके बाद सिक्योरिटी कोड डालने के बाद SEND OTP पर क्लिक करें.
  • आपके रजिस्टर्ड नंबर पर जो OTP आयेगा. उसे डालने के बाद VID जेनरेट करने का ऑप्शन मिल जाएगा.
  • VID के जनरेट होते ही आपके मोबाइल पर 16 अंकों की VID भेज दी जायेगी.

VID के फायदे-

  • इसकी मदद से आपको अपना आधार नंबर किसी के साथ शेयर करने की जरूरत नहीं पड़ेगी.
  • इससे नाम, पता और फोटोग्राफ जैसी कई चीजों का सत्यापन हो जायेगा.
  • जब आप नयी VID जनरेट करेंगे तो पुरानी अपने आप कैंसिल हो जायेगी.

इसे भी पढ़ें- कहीं आप भी तो अपने प्राइवेट पलों को फोन में सेव नहीं रखते? मुश्किलें आ सकती हैं

इसे भी पढ़ें- अब आप Flipkart से उधार सामान भी मंगा सकते हैं, जानिये कैसे

इसे भी पढ़ें- दीपिका ने अपने ब्रेस्ट से जुड़ी बातों पर किया चौंकाने वाला खुलासा

रोनाल्डो (Ronaldo) की दीवानगी-