Home Facts ये हैं दुनिया के वो 10 देश जहां किसी को नहीं देना...

ये हैं दुनिया के वो 10 देश जहां किसी को नहीं देना पड़ता है इनकम टैक्स

दुनिया में कई देश ऐसे हैं, जहां बहुत ज्यादा इनकम टैक्स लिया जाता है. जैसे कि डेनमार्क की सरकार साठ हजार डॉलर से ऊपर कमाने वाले लोगों से 60 प्रतिशत टैक्स लेती है. वहीं बेल्जियम में अविवाहित लोगों को 43 प्रतिशत इनकम टैक्स सरकार को देना होता है. जर्मनी में लोग 39.9 प्रतिशत टैक्स सरकार को देते हैं.

इनकम टैक्स
Image: ITR Today

इसके अलावा कई देश ऐसे भी हैं, जहां बहुत ही कम इनकम टैक्स लिया जाता है. इन देशों में चिली शामिल है, जहां केवल 7 प्रतिशत टैक्स लिया जाता है. इसके अलावा मेक्सिको में कुछ इनकम स्लैब्स में 9.5 प्रतिशत तक टैक्स लिया जाता है.

लेकिन आज हम आपको 10 बता रहे हैं जहां लोगों को सरकार को कोई इनकम टैक्स नहीं देना पड़ता है.
1. बरमूडा :

यह एक छोटा देश है, लेकिन इसके बावजूद यहां कोई पर्सनल टैक्स नहीं देना पड़ता. यहां कर्मचारियों को 14 फीसदी पे-रोल टैक्स देना होता है.

2. ब्रुनई :

ब्रुनई दारुस्सलाम में किसी भी तरह का पर्सनल इनकम टैक्स नहीं है. यहां बस एक एम्प्लाई ट्रस्ट फण्ड और सप्लीमेंटल कंट्रीब्यूटरी पेंशन स्कीम है.

3. संयुक्त अरब अमीरात :

संयुक्त अरब अमीरात ऐसा देश है, जहां लोग अमीर हैं, लेकिन उन्हें इनकम टैक्स नहीं देना पड़ता. विदेशी बैंक और विदेशी तेल कम्पनियों की कैपिटल गेन इनकम पर पर नॉर्मल बिज़नेस टैक्स ही लगाया जाता है.

4. सउदी अरब :

सउदी अरब में व्यक्तिगत वेतन पर कोई टैक्स नहीं है. लेकिन वहीं अपना व्यवसाय करने वाले प्रवासियों पर सरकार 20 प्रतिशत टैक्स लगाती है. इसके अलावा यहां किसी व्यक्ति पर किसी भी तरह का अन्य कोई टैक्स लागू नहीं है.

5. बहमास :

बहमास में भी कोई इनकम टैक्स नहीं है. यहां कैपिटल गेन, उत्तराधिकार या गिट टैक्स भी नहीं देना पड़ता है. यहां रियल एस्टेट एक्जीविशन टैक्स (स्टाम्प ड्यूटी) और होल्डिंग टैक्स (रियल प्रॉपर्टी टैक्स) लागू है.

6. कतर :

कतर में तेल का अथाह भंडार है. इस देश के लोग काफी अमीर हैं, बावजूद इसके यहां कोई इनकम टैक्स नहीं देना पड़ता है. किसी भी व्यक्ति या कर्मचारी पर आयकर, डिविडेंड, कैपिटल गेन्स व धन या सम्पत्ति के ट्रांसफर पर कोई टैक्स नहीं है.

7. ओमान :

ओमान भी एक तेल उत्पादक देश है. यहां भी किसी व्यक्ति की आय पर कोई टैक्स नहीं देना होता है.

8. कुवैत :

कुवैत देश का भी हर नागरिक आयकर से मुक्त है. लेकिन यहां पर हर नागरिक को सोशल इंश्योरेंस में योगदान करना जरूरी है.

9. कैमैन आइलैंड :

कैमैन आइलैंड में न तो किसी को इनकम टैक्स देना पड़ता है और न ही सोशल इंश्योरेंस फण्ड में ही कोई पैसा देना होता है. लेकिन खास बात ये है कि यहां के हर व्यापार करने वाले को अपने कर्मचारियों के लिए पेंशन स्कीम चलानी होती है. इसमें लगातार नौ माह से काम कर रहे बाहरी कर्मचारी भी शामिल होते है.

10. बहरीन :

बहरीन में भी आय पर कोई कर नहीं है, लेकिन सोशल इंश्योरेंस और इम्प्लायमेंट टैक्स देना पड़ता है. यहां हर कंपनी मालिक को अपने कर्मचारियों के लिए 12 फीसदी सोशल इंश्योरेंस टैक्स चुकाना होता है.