Home Azab Gazab स्विमिंग के महामानव माइकल फेलेप्स से जुड़े 16 अनोखे तथ्य

स्विमिंग के महामानव माइकल फेलेप्स से जुड़े 16 अनोखे तथ्य

आज जानते हैं तैराकी की दुनिया के बादशाह माइकल फेलेप्स से जुड़े कुछ अनोखे तथ्य..

1- फेलेप्स के बारे में कहा जाता है कि वह रोजाना लगभग 90 किलोमीटर की तैराकी करता है.

2- ओलंपिक के इतिहास का ऐसा खिलाड़ी जो रोजाना 12 हजार कैलोरी का भोजन लेता है.

3– फेलेप्स का जन्म 30 जून, 1985 को अमेरिका के बाल्टीमोर में हुआ था.

4- वह अपनी उन गलतियों पर बारीक निगाह रखते है और उसे कभी दोहराते नहीं.

Courtesy-Business Insider

5- फेलेप्स हर कंपटीशन से पहले हीलिंग सेशन लिया करते है. इस सेशन का नाम कप्पिंग है जो एक चीनी तकनीक है. इस तकनीक के जरिए मसल्स को आराम दिया जाता है और साथ ही ये दर्द भी दूर करता है. इस प्रक्रिया में कांच के कप का इस्तेमाल होता है. हीलिंग सेशन में पहले कप को गर्म किया जाता है. फिर उसे त्वचा पर लगाया जाता है. इससे मांसपेशियों को आराम मिलता है. ऐसा माना जाता है कि रक्त के प्रवाह को ठीक करने और दर्द के इलाज के लिए यह काफी मदद करता है. यकीकन यह प्रकिया तकलीफदेह होती है और इस दौरान त्वचा में जलन भी होती है.

6– फेलेप्स के पैर आम आदमी के पैर से थोड़े अलग है. उनके पंजे चौड़े है और जब वह तैरते है तो उनके पंजों का ऐसा होना उनकी मदद करता है.

Courtesy-SwimSwam

7- बहुत ही कम लोगों को यह मालूम होगा कि इतना अच्छा तैराक कभी पानी से ही डरा करता था. बचपन में माइकल फेलप्स को डिफिटिस हाइपरऐक्टिव डिसऑर्डर (ADHD) था. इस डिसऑर्डर में बच्चे में हर समय आवेग, लापरवाही और अस्थिरता का भाव रहता है. लेकिन फेलेप्स अपने मजबूत इरादों की बदौलत जल्दी इन सबसे बाहर निकल गए.

8– फेलेप्स के बारे में यह सभी लोग जानते है कि वह जो कहते हैं बखूबी कर दिखाते है. पेइचिंग ओलंपिक में माइकल फेलेप्स ने चैलेंज देते हुए आठों स्पर्धाओं में भाग लिया था. फेलेप्स ने कहा था कि वह तैराकी के हर इवेंट में भाग लेंगे और गोल्ड मेडल जीतेंगे और फेलेप्स ने अपनी कही हुई बातों को सच कर दिखाया था. उन्होंने गोल्ड मेडल जीतकर यह करिश्मा कर दिखाया था.

9– वर्ष 2000 में ओलंपिक की फीकी शुरूआत करने वाले माइकल फेल्पस ने फिर कभी मुड़कर नहीं देखा. आज की तारीख में वह ओलंपिक के सबसे बड़े महारथी बन चुके हैं जो ताल ठोककर जीतना जानता है.

10- साल 2000 में अमेरिका के लिए पिछले 70 सालों में ओलंपिक में क्वालीफाइ करने वाले फेलेप्स 15 साल की उम्र में सबसे युवा पुरूष ओलंपियन बने.

courtesy-cbsnews

11- 2004 में खेले गए एथेंस ओलंपिक में माइकल फेलेप्स इस कदर छाए कि दुनियाभर में उनके नाम का डंका बज गया.

12- फेलेप्स ने एथेंस ओलंपिक में 6 गोल्ड और 2 ब्रांज मेडल जीते.

13- उन्होंने अब तक 21 गोल्ड मेडल जीते हैं और कुल मिलाकर 16 साल में ओलंपिक में उनके 25 पदक हो चुके हैं.

14- ओलंपिक में शामिल 205 देशों में से सिर्फ 32 देश ऐसे है जिनके पास फेलेप्स से ज्यादा गोल्ड है.

15- ओलंपिक के इतिहास में सर्वाधिक मेडल का रिकॉर्ड भी अब माइकल फेलेप्स के नाम हो गया है. उन्होंने अब तक कुल 25 मेडल जीते हैं जबकि उनके बाद लेरिसा लेटिनिना का नंबर है जिन्होंने जिमनास्ट में कुल 18 मेडल जीते.

16- किसी भी एक सिंगल ओलंपिक में पहले स्थान पर रहते हुए सर्वाधिक 8 गोल्ड मेडल्स का रिकॉर्ड भी बीजिंग ओलंपिक के दौरान माइकल फेलेप्स के नाम दर्ज है.

ये भी पढ़ें- OMG: अगर आपने भी सुन लिया ये गाना, तो कर लेंगे सुसाइड

ये भी पढ़ें- सिर दर्द कर देंगे ये अजीब से चैलेंज, रिजल्ट देखकर आप भी रह जाएंगे सन्न