Home Facts बेहद रोचक हैं इन्द्रधनुष से जुड़े ये फैक्ट्स, मिलेगी नई जानकारी

बेहद रोचक हैं इन्द्रधनुष से जुड़े ये फैक्ट्स, मिलेगी नई जानकारी

सात रंगों से बने इन्द्रधनुष बचपन से ही हम सभी की आर्ट बुक में रहे हैं. मन ख़ुशी से और ज्यादा तब झूमने लगता है जब असल में बारिश के बाद इन्द्रधनुष देखने को मिल जाता है. रंग-बिरंगा इन्द्रधनुष आसमान में कैसे आता है और कुछ समय बाद कहां गायब हो जाता है इस बारे में कभी आपने सोचा है.? आज हम इन्द्रधनुष से जुड़ी कई रोचक बाते बताएंगे जो आपकी जानकारी को बढ़ाने के लिए काम आएंगे.

photo credit-विकिपीडिया

1.साउथ अफ्रीका को ‘रेनबो नेशन’ के नाम से भी जाना जाता है.

2.दो इन्द्रधनुष के बीच के गाढ़े भाग को अलेक्जेंडर बैंड कहा जाता है.

3.सूर्य जब भी ऊंचाई पर होगा तो हमें इन्द्रधनुष नीचे दिखाई देगा और जब सूर्य नीचे होगा तो हमें इन्द्रधनुष ऊंचाई पर दिखाई देगा.

ये भी पढ़ें- पैरों के बारे में ये रोचक बातें शायद ही जानते होंगे आप, पढ़िये यहां

4.असल में इन्द्रधनुष पूरा गोल होता है, लेकिन जमीन से हमें सिर्फ आधा ही दिखाई देता है. आप हवाई जहाज से उड़ते हुए पूरा गोल देख सकते हैं.

photo credit-frogpitara

5.सूर्य की रोशनी के आखिरी चार घंटों में सबसे ज्यादा इन्द्रधनुष दिखाई देता है.

6.अगर एक साथ दो इन्द्रधनुष बनते हैं तो दूसरे इन्द्रधनुष का रंग प्राथमिक इन्द्रधनुष के बिलकुल उल्टे क्रम में होगा. इसलिए आपको दूसरे इन्द्रधनुष में लाल रंग की बजाय बैंगनी रंग सबसे उपर दिखेगा.

ये भी पढ़ें- हर 7 साल में पुरानी हड्डियों की जगह आ जाती है नई हड्डी, जानिए हड्डियों से जुड़ी रोचक बातें

7.इन्द्रधनुष लाल, नारंगी, पीला, हरा, नीला, इंडिगो और बैंगनी जैसे सात रंगों से मिलकर बना है.

photo credit-bhorabhivyakti

8.इन्द्रधनुष ज्यादातर झरने के पास और भूमध्य रेखा के आस-पास वाले एरिया में दिखाई देता है.

9.सूर्य का प्रकाश हमें सफेद रंग का दिखाई देता है, लेकिन असल ये में सात रंगो से मिलकर बना होता है जो हमें प्रिज्म से देखने पर ही दिखाई देते हैं.

ये भी पढ़ें- कुछ हटकर हैं मोर से जुड़ी ये रोचक बातें, आप भी जानिए कैसे

10.बारिश के मौसम में सूर्य की रोशनी एक साथ लाखों बूंदों से अपवर्तित और परावर्तित होती है तो पानी की बूंदे प्रिज्म का काम करती है जिसकी वजह से हमें वो सूर्य की रोशनी के सातों रंग खुले आसमान में दिखाई देने लगते हैं.