Take a fresh look at your lifestyle.

A Mysterious Man From Taured : दूसरी दुनिया का वो आदमी जो आज तक बना हुआ है रहस्य

ये कहानी एक ऐसे व्यक्ति की है जो जापान एयरपोर्ट पर टॉरेड नामक देश से पहुँचता है, कई लोगों का मानना है की ये कहानी सच्ची है पर ये कहानी तब एक अबूझ पहेली बनकर रह जाती है जब वो रहस्यमयी व्यक्ति  गायब हो जाता है. चलिए जानते हैं क्या है इसके पीछे की पूरी कहानी.

जुलाई 1954 एक साधारण सा दिखने वाला शख्स टोक्यो एयरपोर्ट पर उतरता है लेकिन  के बाद उसकी यात्रा में एक बेहद अजीब मोड़ आता है इमिग्रेशन ऑफिसर्स जब उसका पासपोर्ट देखते है तो पाते हैं की जो देश उस पासपोर्ट पर अंकित है उसका नाम तो उन्होंने पहले कभी सुना ही नहीं वो उसे पूछताछ के लिए अंदर ले जाते हैं, ऑफिसर्स उससे उसकी राष्ट्रीयता पूछते हैं वो उन्हें बताता है की “वो टॉरेड गणराज्य से है लेकिन परेशानी क्या है?”

ऑफिसर्स के अनुसार उसका पासपोर्ट तो ऑथेंटिक था पर जिस देश से उसे ज़ारी किया गया था यानि की टॉरेड उस नाम का कोई देश वास्तविकता में था ही नहीं या यूँ कहें की हमारी दुनिया में तो नहीं था.

उस रहस्यमयी आदमी ने न सिर्फ पासपोर्ट दिखाया बल्कि वो  सारे डाक्यूमेंट्स भी दिए जो ये बताने के लिए पर्याप्त थे की न तो जापान में ये उसकी पहली यात्रा थी न ही वो कोई आतंकवादी था, जब कुछ भी समझ नहीं आया तो ऑफिसर्स ने उसे उसकी कंट्री को  मैप पर लोकेट करने को कहा उसने मैप पर जो जगह बताई वो फ्रांस और स्पेन के बीच थी जो की वास्तव में एक राज्य था.

जिसे प्रिन्सिपलिटी ऑफ़ अंडोरा के नाम से जाना जाता है वो ये देखकर परेशान था की उसका देश जैसा की उसने बताया की लगभग 1000 वर्ष पुरानी संस्कृति का देश है वहां न होकर कोई और देश दर्शाया गया है जिसका नाम उसने पहले कभी नहीं सुना था.

उसके पासपोर्ट पर जो पिछली यात्राओं के स्टैम्प्स लगे हुए थे वो बात की पुष्टि कर रहे थे की वो अपनी कंपनी  पिछले पांच सालों में कई बार टॉरेड से टोक्यो और कई और जगहों की यात्रा कर चुका है. उसके ड्राइवर्स लाइसेंस था, बैंक चेकबुक थी जो की सभी उसके टॉरेड नामक देश से होने को पुख्ता करते थे हालाँकि टॉरेड नामक देश खुद पूरी दुनिया में कहीं नहीं था.

कुछ और पूछताछ के बाद आखिरी निर्णय लेने से पहले उसे एक होटल में ठहराया गया होटल का कमरा १५वीं मंजिल पर था जिसमे केवल एक खिड़की लगी लगी हुई थी इस प्रकार कोई भी सिर्फ दरवाजे से ही अंदर या बहार जा सकता था, कमरे के बहार दो ऑफिसर्स थे जिससे उसका वहां से भाग पाना लगभग नामुमकिन था.

ऑफिसर्स के मुताबिक दुसरे दिन सुबह जब वे कमरे में गए तो वो रहस्यमयी व्यक्ति गायब था साथ ही गायब थे उसके वो सारे डाक्यूमेंट्स भी जिसकी वजह से उस शख्स के वहां होने का या इस पूरे वाकये का कोई पुख्ता सबूत नहीं बचता!

टॉरेड

और इस के साथ वो रहस्यमयी शख्स हमारे लिरे कई सवाल छोड़ जाता है…क्या वो भविष्य से आया था?? या हमारी पृथ्वी के जैसे ही किसी दुसरे आयाम से?? ये रहस्य आज तक अनसुलझा है.

आर्टिस्ट ने तस्वीरों से बताया नींद में बच्चे क्या सपने देखते हैं, देखिये खूबसूरत तस्वीरें

Comments are closed.