Take a fresh look at your lifestyle.

Bharat Ratna : भारत रत्न पुरस्कार के बारे में रोचक तथ्य जानें

भारत गणराज्य 26 जनवरी को अपना 70वां गणतंत्र दिवस मनाने जा रहा है. गणतंत्र दिवस से पूर्ण इस दिन दिए जाने वाले भारत रत्न पुरस्कारों के नामों की घोषणा कर दी गई है. भारत रत्न पुरस्कार के बारे में कुछ जरूरी बातें जो सभी नागरिकों को जाननी चाहिए.

1. भारत रत्न पुरस्कार देश का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार है.

2. भारत रत्न सम्मान देने की शुरुआत 2 जनवरी साल 1954 को तत्कालीन राष्ट्रपति डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद के द्वारा की गई थी.

Source-Maps of india

3. देश में किसी क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करते हुए देश का गौरव अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ाने वाले व्यक्ति को भारत रत्न पुरस्कार के साथ सम्मानित किया जाता है.

4. भारत सरकार की तरफ से यह सम्मान साहित्य, विज्ञान, खेलकूद, कला एवं समाजसेवा आदि क्षेत्रों में असाधारण कार्यों के लिए दिया जाता है.

5. Bharat Ratna पुरस्कार तांबे की धातु पर पीपल के पत्ते जैसे आकार का होता है जिसकी लंबाई 58 सेमी, चौड़ाई 4.7 सेमी और मोटाई 3.1 सेमी होती है.

6. इसके ऊपरी भाग में सूर्य की उभरी हुई आकृति उकेरी गई होती है और नीचे भारत रत्न लिखा होता है.

7. Bharat Ratna से सम्मानित व्यक्ति को भारत की वरीयता सूची में 7वां स्थान प्राप्त होता है.

8. जिन लोगों को भारत रत्न सम्मान मिला होता उन्हें प्रोटोकॉल में राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, राज्यपाल, उपप्रधानमंत्री, मुख्य न्यायाधीश, लोकसभा स्पीकर, कैबिनेट मंत्री, संसद के दोनों सदनों में विपक्ष के नेता के बाद जगह मिलती है.

9. साल 1955 के पहले भारत रत्न पुरस्कार सिर्फ जीवित लोगों को ही दिया जाता था. 1955 के बाद से इस मरणोपरांत भी दिया जाने लगा.

10. Bharat Ratna पुरस्कार एक वर्ष में अधिकतम तीन लोगों को ही दिए जाने का प्रावधान है.

11. साल 2011 से पहले खेलकूद को भारत रत्न की श्रेणी में शामिल नहीं किया गया था. साल 2011 के बाद से खेलकूद के क्षेत्र में असाधारण प्रदर्शन करने वालों को इसकी सूची में शामिल किया जाने लगा.

12. भारत रत्न पुरस्कारों को 13 जुलाई 1977 से 26 जनवरी 1980 के बीच की अवधि में निलंबित भी कर दिया गया था.

13. डी. के. कर्वे भारत रत्न पुरस्कार प्राप्त करने वाले सबसे अधिक उम्र के व्यक्ति थे. उन्होंने 100 साल की उम्र में यह पुरस्कार प्राप्त किया था.

14. नेताजी सुभाषचंद्र बोस को साल 1992 में मरणोपरांत भारत रत्न से सम्मानित किया गया था लेकिन बाद में इसे वापस ले लिया गया था.

15. भारत रत्न पुरस्कार को सिर्फ भारतीय लोगों को ही दिए जाने का कोई प्रावधान नहीं है.

भारत रत्न
Source-HelloTravel

16. साल 1987 में अब्दुल गफ्फार खान और साल 1990 में नेल्सन मंडेला को भारत रत्न से सम्मानित किया गया है.

17. साल 1959, 1960, 1967, 1968, 1969, 1970, 1971, 1973, 1974, 1973, 1977, 1978, 1979, 1981, 1982, 1984, 1985, 1986, 1989, 1993, 1994, 1995 और 1996 में यह पुरस्कार किसी को भी नहीं दिया गया था.

18. अभी तक कुल 46 लोगों को भारत रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है.

19. Bharat Ratna के साथ कोई रकम नहीं दी जाती लेकिन राष्ट्रपति द्वारा हस्ताक्षरित एक प्रमाण पत्र मिलता है और साथ में एक मेडल भी. इस मेडल की कीमत लगभग 2,57,732 रूपये है.

 भारत रत्न के साथ मिलने वाली सुविधाएँ

  • जीवन भर Income Tax नहीं भरना पड़ता.
  •  जीवन भर भारत में एयर इंडिया की प्रथम श्रेणी की मुफ्त हवाई यात्रा और रेलवे में प्रथम श्रेणी में मुफ्त यात्रा.
  • संसद की बैठकों और सत्र में भाग लेने की अनुमति है.
  • कैबिनेट रैंक के बराबर की योगयता मिलती है.
  • जरूरत पड़ने पर Z-grade की सुरक्षा दी जाती है.
  • VVIP के बराबर का दर्जा दिया जाता है.
  • देश के अंदर किसी भी राज्य में यात्रा के दौरान राज्य सरकार द्वारा उन्हें स्टेट गेस्ट की सुविधा दी जाती हैं.
  • विदेश यात्रा के दौरान भारतीय दूतावास द्वारा उन्हें हर संभव सुविधा प्रदान की जाती है.

तुलसी गबार्ड : अमेरिका की हिंदू सांसद जो बनना चाहती है राष्ट्रपति

Comments are closed.