Take a fresh look at your lifestyle.

त्योहार के मौके पर लोग मोमबत्तियां क्यों जलाते हैं?

ईश्वर के सामने मोमबत्तियां जलाने से शरीर और घर से नकारात्मकता बाहर चली जाती है

आपने देखा होगा कि त्योहार के मौके पर लोग मोमबत्तियां जलाते हैं. ऐसा प्रचलन सभी धर्मों में है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि लोग त्योहार में मोमबत्तियां क्यों जलाते हैं ?

Azab Gazab
photo credit-MSN.com

धर्म में प्रकाश यानी कि उजाले का विशेष महत्व होता है. साथ ही ईश्वर का रूप भी माना जाता है. शास्त्रों में प्रकाश की तुलना ज्ञान से की है. इसलिए त्योहारों पर प्रकाश रूपी मोमबत्तियां जलाकर हम खुद को अज्ञानता से निकालकर ज्ञान की ओर ले जाने का प्रयास करते हैं.

खासकर त्योहारों के खास मौकों पर मोमबत्तियां जलाकर प्रकाश की महत्वता को ज्यादा मान्यता देते हैं. ईसाई धर्म की बात करें तो क्रिसमस के खास मौके पर ईश्वर यीशु के सामने ढेर सारी मोमबत्तियां जलाई जाती हैं. इससे ईसाई धर्म के लोग अपने जीवन में प्रकाश लाने की कामना रखते हैं. कहा जाता है कि मोमबत्तियां जलाने से घर में नकारात्मक उर्जा दूर होती है और जीवन में सकारात्मकता का वास होता है.

Azab Gazab
photo credit-YouTube

त्योहारों के खास मौके पर अलग-अलग रंगों की मोमबत्तियां जलाने को भी शुभ माना गया है. कहा जाता है कि इससे जीवन में खुशियां और सफलता का आगमन होता है. ऐसा माना जाता है कि घर, आंगन, घर के दरवाजे, ऑफिस जैसी जगहों में प्रकाश करने से ईश्वर की कृपा मिलती है.

शास्त्रों में प्रकाश से जीवन का अंधेरा दूर होने की बात कही गई है. कहते हैं कि जब भी प्रकाश के माध्यम से ईश्वर की आराधना करते हैं तो वो प्रकाश के माध्यम से ज्ञान के रूप में अर्जित होता है.

कुत्तों की सूंघने की क्षमता अधिक क्यों होती है, कुत्तों से जुड़े कई रोचक तथ्य

Comments are closed.