Take a fresh look at your lifestyle.

भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद शमी को ऐसी सजा मिलनी चाहिए या नहीं?

इन दिनों भारत के एक खिलाड़ी मोहम्मद शमी मीडिया में काफी छाए हुए हैं. हालांकि वो किसी अच्छी वजह से नहीं मीडिया में छाए. हाल ही में उनकी पत्नी हसीन जहां ने सोशल मीडिया पर कुछ स्क्रीनशॉट शेयर किये, जिनकी वजह से ये अंदाजा लगाया जा सकता है कि शमी दूसरी महिलाओं से भी आपत्तिजनक बातचीत कर रहे थे. इसके अगले ही दिन उनकी पत्नी मीडिया के सामने आ गईं और उन पर बेहद गंभीर आरोप लगाए.

मोहम्मद शमी
Image: News Mobile

इसके बारे में हसीन ने मीडिया से कहा, ‘जो कुछ मैंने पोस्ट किया है, वो पूरी कहानी का हिस्सा भर है. उनके कई महिलाओं से रिश्ते हैं. परिवार में सभी मुझे टॉर्चर करते हैं. ये टॉर्चर सवेरे दो-तीन बजे तक चलता था. वो मुझे मारना भी चाहते थे.’

शमी ने दी इसकी सफाई

इस बारे में अपनी ओर से सफाई देते हुए शमी ने इस सब को साजिश बताया है. इसके बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि ‘ये हमारी निजी जिंदगी के बारे में जितनी भी खबरें चल रही हैं, ये सब सरासर झूठ हैं. ये कोई बहुत बड़ी साज़िश है. मुझे बदनाम करने और मेरा खेल खराब करने कोशिश है.’ लेकिन बड़ी बात ये है कि अब ये मामला पारिवारिक न होकर शमी के करियर तक पर आ गया है.

Image: Sports Wiki

सुप्रीम कोर्ट की ओर से BCCI के लिए नियुक्त कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स (CoA) ने हाल ही में भारतीय टीम के खिलाड़ियों की लिस्ट जारी की है. ध्यान देने वाली बात ये है कि इस लिस्ट में मोहम्मद शमी का नाम नहीं है. जानकारी के अनुसार इस लिस्ट में कुल 26 खिलाड़ियों को शामिल किया गया है.

हालांकि इस लिस्ट के जारी होने के बाद से ही मीडिया ने इस मामले को शमी के पर्सनल मामले से जोड़ कर दिखाना शुरू कर दिया. लेकिन इस बात को दम तब ज्यादा मिला जब बीबीसी से बात करते हुए BCCI ने इस बारे में बात की.

Image: Cricket Trolls

इस बारे में जब बोर्ड के एक अधिकारी से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ‘मोहम्मद शमी को टीम के बाहर नहीं किया गया है. वो सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट वाले खिलाड़ी हैं लेकिन उनका नाम अभी रोका गया है.’

इसके बाद उनसे ये पूछा गया कि क्या शमी का नाम रोकने की वजह उनका और उनकी पत्नी के बीच विवाद है? इस पर उन्होंने कहा कि ‘हां.’ इस बात की पुष्टि करते हुए उन्होने कहा कि ‘जैसा कि मैंने कहा कि वो सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट हासिल खिलाड़ी हैं और उनका नाम सिर्फ़ रोका गया है. और ऐसा हालिया घटना की वजह से किया गया है.’

Image: NDTV

जब उनसे पूछा गया कि इससे शमी के भविष्य का क्या होगा तो उन्होंने कहा कि ‘हम देख रहे हैं कि आगे क्या होता है. अगर सब ठीक होता है तो उनका नाम भी लिस्ट में शामिल कर दिया जाएगा.’ जब उनसे ये पूछा गया कि क्या शमी के खिलाफ क्रिकेट बोर्ड ने कोई जांच बैठाई है तो उन्होंने कहा कि ‘इस मामले में बोर्ड कोई जांच नहीं करा सकता. ये एक पारिवारिक मामला है और पति-पत्नी के बीच है इसलिए हम इस मामले पर निगाह रखे हुए हैं.’

Image: India Today

जानकारी के अनुसार पत्नी की तरफ से आरोप लगाए जाने से लोगों में ये कयास लगाए जा रहे थे कि शमी को ग्रेड A कॉन्ट्रैक्ट में रखा जाएगा. अगर ऐसा होता तो उनको सालाना 5 से 3 करोड़ रुपये मिलते.

यह भी पढ़ें : दुखद: ‘तू माने या न माने दिलदारा’ गाने वाले भाइयों में से एक का निधन

कौन थे लेनिन? इतिहास में क्या जगह है उनकी

Comments are closed.