भारत के अलावा इन सात देशों में तमिल बोली जाती है, सवाल ये भी कि सबसे पुरानी भाषा तमिल या संस्कृत ?

28 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिल भाषा न सीख पाने को लेकर मलाल जताया. रेडियो कार्यक्रम मन की बात में प्रधानमंत्री ने बताया कि तमिल प्राचीनतम भाषाओं में से एक है यह भाषा सारी दुनिया में बोली जाती है.

तमिल भाषा का इतिहास-

तमिल भाषा तकरीबन 5000 साल पुरानी भाषा है. इस भाषा से जुड़े प्राप्त शिलालेख से पता चलता है कि तमिल संभवतः तीसरी शताब्दी ईसा पूर्व की भाषा है. प्राचीन काल से लेकर अब तक बहुत सी भाषाओं का जन्म हुआ और वक्त के साथ खत्म हो गई लेकिन तमिल भाषा की लोकप्रियता वैसी की वैसी ही बनी रही. तमिल भाषा तमिलनाडु की आधिकारिक भाषा है.

हिन्दी के बाद तमिल अकेली ऐसी भाषा है जो सात देशों में बोली जाती है. तमिल भाषा मॉरिशस, श्रीलंका, सिंगापुर, वियतनाम, रियूनियम, इजिप्ट और खाड़ी के अन्य देशों में बोली जाती है. वहीं श्रीलंका और सिंगापुर में तमिल को आधिकारिक भाषा का दर्जा प्राप्त है.

तमिल को 6 करोड़ 80 लाख लोग स्थानीय भाषा के तौर पर इस्तेमाल करते हैं. वहीं तकरीबन 90 लाख लोग इसे दूसरी की भाषा के तौर पर बोलते हैं. तमिल भाषा में कई पत्र- पत्रिकाएं और अखबार प्रकाशित हुए. एक सर्वे के अनुसार तमिल भाषा में साल 1863 में अखबार प्रकाशित होते थे लेकिन ये अखबार कुछ दिन चलने के बाद बंद हो जाते थे.

संस्कृत भाषा-

हिन्दी और तमिल के अलावा संस्कृत को भी प्राचीनतम भाषा माना जाता है. संस्कृत को देव भाषा भी कहा जाता है. देश भर में इस बात को लेकर बहस है कि तमिल सबसे पुरानी भाषा है या संस्कृत या दोनों समकालीन भाषाएं हैं. गुजरात में प्राचीन संस्कृत के कई प्रमाण मिले हैं. संस्कृत, भारत की आधिकारिक भाषाओं में से एक है. लेकिन वर्तमान में संस्कृत बोलने वाले लोगों की संख्या में कमी आई है. इस वक्त केवल 14135 लोग ही संस्कृत बोल सकते हैं.

Language
Source- The Indian Express

भाषा के जानकारों के मुताबिक दुनियाभर में करीब 6000 से ज्यादा भाषाएं हैं. इसमें से कई भाषाएं सालों पुरानी है. एथिनोलॉग के अनुसार 7097 भाषाएं दुनियाभर में बोली जाती हैं. लेकिन इसमें से कई भाषाएं विलुप्त होने की कगार पर हैं.

एथिनोलॉग के मुताबिक दुनिया की आधी आबादी केवल 23 भाषाएं बोल कर अपना काम चला लेती हैं. भाषाओं की जन्म की बात करे तो लगभग एक लाख साल पहले इंसान ने खुद की अभिव्यक्ति को दर्शाने के लिए इसकी खोज की थी.

अन्य प्राचीन भाषाएं-

इजरायल में बोली जाने वाली हिब्रू, इरान में बोली जाने वाली फारसी, ग्रीक भाषा, अरबी, चीनी और लैटिन भाषा को प्राचीनतम भाषाओं में गिना जाता है. लैटिन भाषा विलुप्त होने की कगार पर थी लेकिन इस भाषा को दोबारा से व्यवहार में लाया जा रहा है.

Language
Source- Google

चीनी भाषा भी पुरानी भाषाओं में से एक है. चीनी भाषा का इतिहास लगभग 3 हजार साल पुराना माना जाता है. दुनियाभर में चीनी भाषा को बोलने वालों की संख्या लगभग 1.2 बिलियन है. चीन के अलावा चीनी भाषा ताइवान और सिंगापुर में भी बोली जाती है.