Take a fresh look at your lifestyle.

Andaman and Nicobar Island Facts : अंडमान और निकोबार द्वीप से जुड़ी रोचक जानकारियां

अंडमान और निकोबार द्वीप से जुड़ी ये बातें सुनकर आप रह जाएंगे दंग

Andaman and Nicobar Island द्वीप समूह भारत का एक खूबसूरत हिस्सा है और ये एक लोकप्रिय पर्यटक स्थल में से एक है. हर साल यहां लाखों पर्यटक छुट्टियां मनाने आते हैं. अंडमान और निकोबार द्वीप के बारे कई सारे ऐसे रोचक तथ्य हैं जिनसे आप शायद वाकिफ नहीं होंगे. तो आज हम आपको अंडमान और निकोबार से जुड़े कुछ रोचक तथ्य बताएंगे.

Andman and Nicobar Island
Andman and Nicobar Island

1. लोगों की मान्यता है कि अंडमान शब्द हनुमान का एक रूप है, जो संस्कृत मूल के मलय भाषा से प्रचलन में आया है. दरअसल, मलय में रामायण के हनुमान पात्र को हन्डुमान कहा जाता है और निकोबार का मतलब है नेकेट लोगों का लैंड.

2. आमतौर पर भारतियों को बहुत मिलनसार माना जाता है पर अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में रहने वाले मूल जनजाति के लोग बाहर से आने वाले लोगों के साथ घुलना-मिलना पसंद नहीं करते हैं. यहां के मूल निवासी मुख्यतः ‘जार्वा’ जन जाति से हैं.

3. अंडमान और निकोबार द्वीप समूह की आबादी में 3.81 लाख लोग रहते हैं और पोर्ट ब्लेयर यहां की राजधानी है.

4. आपको बता दें कि अंडमान के दो आइलैंड्स का नाम ईस्ट इंडिया कंपनी के दो ऑफिसर्स के नाम पर रखा गया है. ये आइलैंड हैं- हेवलॉक और नील आइलैंड.

Andaman and Nicobar Island

5. सबसे ज़्यादा समुद्री कुछुए अंडमान और निकोबार द्वीप समूह पर ही पाए जाते है और धरती का सबसे बड़ा कछुआ भी यहीं पाया जाता है. और इसके अलावा कहा जाता है कि धरती का सबसे छोटा कछुआ ओलिव राइडली भी अंडमान पहुंचकर ही अपना घर बनाता है.

6. आपको जानकर हैरानी होगी कि अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में सबसे ज़्यादा बोली जाने वाली भाषा बंगाली है. इसके अलावा तेलगु, तमिल, मलयालम, अंड़मानीस और भी अन्य भाषा बोले जाने वाले लोग यहां पर मिलते हैं.

Comments are closed.