Take a fresh look at your lifestyle.

Banyan Tree Facts : राष्ट्रीय पेड़ बरगद से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियां

बरगद के पेड़ में हैं औषधीय गुण

बरगद (Banyan Tree) के पेड़ के बारे में कई सारी धारणाएं हैं. कुछ लोगों के अनुसार इस पेड़ पर भूत रहते हैं तो कुछ लोगों के अनुसार ये पेड़ सबसे पवित्र माना जाता है और इस पेड़ की काफी पूजा अर्चना भी की जाती है. आज हम आपको बरगद के पेड़ से जुड़ी कुछ रोचक बातें बताएंगे जो आपने पहले नहीं सुनी होंगी.

1. सबसे पहले आपको बता दें कि बरगद का पेड़ भारत का राष्ट्रीय पेड़ है. और 1950 में इसको भारत का राष्ट्रीय पेड़ घोषित किया गया था.

2. बरगद के पेड़ पूरे भारत देश में पाए जाते हैं और भारत के अलावा ये पाकिस्तान और बांग्लादेश के कुछ हिस्सों में भी पाए जाते हैं.

3. बरगद का पेड़ काफी सालों तक सीधा ही रहता है और ये जमीन पर पाए जाने वाला, दो बीज वाला और फलों वाला होता है.

4. बरगद का फल छोटा गोलाकार और लाल रंग का होता है और इस फल के अन्दर बीज पाया जाता है.

5. बरगद के पेड़ का बीज बहुत छोटा होता है लेकिन आप सभी ने देखा है कि इसका पेड़ कितना विशाल होता है.

6. देश के ग्रामीण इलाकों में, बरगद के पेड़ को पंचायतों का केन्द्र बिंदु और ग्राम परिषदों और बैठकों के लिए सभा स्थल माना जाता है.

Banyan Tree
Banyan

7. आपने देखा होगा कि विवाहित हिन्दू महिलाएं बरगद के पेड़ की पूजा करती हैं. बरगद के पेड़ की पूजा कर विवाहित औरतें एक लंबे और सुखी विवाहित जीवन की कामना करती हैं.

8. बरगद के पेड़ में औषधीय गुण भी होते हैं. बरगद अक्सर कई बीमारियों का इलाज करने के लिए जड़ी बूटी के रूप में उपयोग किया जाता है.

9. बरगद के पेड़ का तना सीधा और कठोर होता है. इस पेड़ की शाखाओं से जड़े निकलती हैं जो हवा में लटकती हैं. जड़ें हवा में लटकते हुए बढ़ती हैं और जमीन के अंदर घुस जाती हैं और स्तंभ बन जाती हैं. इन जड़ों को ‘बरोह’ या ‘प्राप’ जड़ कहा है.

Comments are closed.