दो हफ्तों के भीतर कोरोना वैक्सीन Zydus Cadila को मिल सकती है मंजूरी, 12 से 18 साल के बच्चों के लिए है यह वैक्सीन

नीति आयोग के सदस्य डॉ पॉल ने बताया कि Zydus Cadila को भारत में दो सप्ताह के भीतर आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी मिल सकती है. 12 से 18 साल की उम्र के बच्चों पर यह टीका 67 प्रतिशत तक कारगर है. Zydus Cadila ने 12 से 18 साल के बच्चों पर ट्रायल पूरा कर लिया है. इसने डीएनए-प्लास्मिड वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग के लिए आवेदन किया है.

Zydus Cadila
Source- The Financial Express

अहमदाबाद की दवा कंपनी ने दूसरे क्लिनिकल के ट्रायल में वैक्सीन सेफ होने का डेटा प्रस्तुत किया है. तीसरे चरण में 28,000 volunteers पर परीक्षण किया था. ट्रायल का अंतिम डेटा सुरक्षा और प्रभावकारिता पर आधारित है. इसमें इंजेक्शन का इस्तेमाल नहीं किया गया है बल्कि यह वैक्सीन नीडल फ्री है इसे जेट इंजेक्टर के ज़रिए दिया जाएगा.

1 जुलाई को कंपनी ने ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया से 12 साल ऊपर के बच्चों के लिए डीएनए वैक्सीन ZyCoV-D के आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी मांगी थी. अधिकारियों ने कहा कि अगर मंजूरी मिल जाती है तो अगले दो सप्ताह से वैक्सीन की आपूर्ति शुरू कर दी जाएगी.

Zydus Cadila
Source- Zydus Cadila

डेटा से पता चला है कि ZyCoV-D 12 से 18 साल की आयु के बच्चों के लिए सुरक्षित है. कंपनी ने बताया कि वे वैक्सीन की 100 से 200 मिलयन डोज सालाना बनाने की योजना पर काम कर रही है. Zydus ने एक बयान में कहा कि कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान, कोरोना की डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ परीक्षण किया गया था.

भारत बायोटेक की कोवैक्सीन के बाद दूसरा स्वदेशी ZyCoV-D तीन डोज वाला वैक्सीन है. Zydus Cadila के अनुसार दूसरा टीका 28 दिन के बाद और तीसरा टीका 56 दिनों के बाद दी जाएगी. हालांकि कंपनी दो डो़ज वाले टीके पर भी काम कर रही है.