Take a fresh look at your lifestyle.

मिशन सर्जिकल स्ट्राइक 2.0 कैसे हुआ सफल, भारतीय विमान कैसे पहुंचे POK?

भारतीय वायुसेना ने कैसे पार किया LOC  

 

आज सुबह लगभग 3 बजे भारत जब सो रहा था तब देश की वायु सेना ने POK में घुस कर पाकिस्तान की नींद हराम कर दी. भारतीय वायुसेना के 12 मिराज फाइटर विमानों ने जैश के कई ठिकानों पर एक के बाद एक 1000 किलो की बम वर्षा कर दी. लेकिन सेना को तो ये हमला करना ही था क्योंकी पुलवामा का बदला लेना भी देश की प्रार्थमिकता बन चुका था. वैसे आपको बता दें कि ये मिशन सेना के लिए उतना आसान भी नहीं था.

भारत सरकार का कहना है कि उन्हें ख़ुफ़िया जानकारी मिली थी कि जैश-ए-मोहम्मद के चरमपंथी भारत में कई जगहों पर आत्मघाती हमले की तैयारी कर रहे थे जिसके बाद नियंत्रण रेखा पार कर कार्रवाई का फैसला किया गया. मंगलवार तड़के भारत ने बालाकोट में जैश के सबसे बड़े ट्रेनिंग कैंप को निशाना बनाया.

POK में ऐसे घुसे मिराज विमान

वायुसेना के अधिकारियों ने इस कार्रवाई की जानकारी देते हुए बताया कि मंगलवार तड़के अंबाला से कई मिराज विमान उड़े और बिना अंतरराष्ट्रीय सीमा का उल्लंघन किए, निश्चित लक्ष्यों पर बम बरसाए. विमानों ने एलओसी को पार किया और नियंत्रण रेखा के नज़दीक बालाकोट नाम के एक क़स्बे पर बम गिराए.

वायु सेना के अधिकारियों ने बताया कि ये सारा अभियान आधे घंटे में पूरा हुआ. विमान तीन बजे तड़के उड़े और साढ़े तीन बजे तक सभी विमान सुरक्षित लौट आए. इससे पहले पाकिस्तानी सेना ने सुबह कहा था कि भारतीय वायुसेना ने LOC का उल्लंघन किया है और पाकिस्तान की सीमा में घुसपैठ करने की कोशिश की.

पाक सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया कि भारतीय विमानों ने घुसपैठ की कोशिश की, जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने त्वरित कार्रवाई की है. “भारतीय विमानों ने मुज़फ़्फ़राबाद सेक्टर से घुसपैठ की. पाकिस्तानी वायु सेना की तरफ़ से तत्काल और प्रभावी कार्रवाई की गई जिसके बाद वो भागने लगे.” “भागते हुए उन्होंने हड़बड़ा कर कुछ बम गिराए जो बालाकोट के नज़दीक गिरे. इसमें कोई नुक़सान या कोई हताहत नहीं हुआ है.”

Comments are closed.