Take a fresh look at your lifestyle.

साइनाइड क्यों होता है खतरनाक, कहां से आता है ये साइनाइड?

साइनाइड के बारे में ये बातें आपको कोई नहीं बताएगा

साइनाइड कितना खतरनाक होता है ये तो आप सभी को पता होगा ये सबसे खतरनाक जहर है. हमें अक्सर खबरों में सुनने को मिल जाता है कि किसी ने साइनाइड खाकर आत्म हत्या कर ली या किसी ने साइनाइड खिलाकर किसी की जान ले ली. लेकिन क्या कभी आपने ये सोचा है ये साइनाइड होता क्या है. तो आइये जानते हैं.

Cyanide

क्या है साइनाइड?

  • साइनाइड एक घातक रसायन है जो कई तरह का होता है. इसका रसायनिक नाम CN होता है. इसमें एक कार्बन परमाणु एक नाइट्रोजन परमाणु से ट्रिपल बांड के जरीये जुड़ा होता है.
  • ये खतरनाक रसायन बिना रंग का भी होता है जैसे हाइड्रोजन सायनाइड (HCN) या सायनोजन क्लोराइड (CNCl), या क्रिस्टल रूप जैसे सोडियम साइनाइड (NaCN) या पोटेशियम साइनाइड (KCN).
  • लेकिन सारे साइनाइड खतरनाक नहीं होते हैं, कुछ ऐसे नाइट्राइल् कंपाउंड्स होते हैं जिनमें साइनाइड ग्रुप तो होता है लेकिन वे जहरीले नहीं होते हैं. यहां तक कि इनको कुछ दवाओं में भी इस्तेमाल किया जाता है.

कितना साइनाइड हो सकता है जानलेवा?

  • साइनाइड को सांस से लेने पर ज्यादा घातक होता है. सांस से लेने पर एक मिनट के भीतर मृत्यु हो सकती है. तकरीबन 1 मिलीग्राम से कम साइनाइड ज्यादा खतरनाक नहीं होता है लेकिन 3 ग्राम से ज्यादा होने पर तुरंत मौत हो सकती है.
  • साइनाइड से शरीर के कोशिकाओं को ऑक्सीजन नहीं मिल पाता हैं. कोशिकाओं को जीवित रखने के लिए ऑक्सीजन का होना अनिवार्य है.
Cyanide

क्या है उपचार?

  • साइनाइड अगर शरीर में सांस के रास्ते से अंदर जाता है तो उस व्यक्ति को खुली हवा में ले जाया जाता है. और विटामिन B12 से पेशाब के रास्ते से बाहर निकाल दिया जाता है. उपचार के बाद भी इंसान पूरी तरह से ठीक नही हो पाता है. जहर की वजह से पैरालिसिस या इंसान कोमा में भी जा सकता है.

कितने रूपों में पाया जाता है साइनाइड?

  • साइनाइड ठोस, द्रव और गैस तीनों रूपों में पाया जाता है. हाइड्रोजन साइनाइड की कम तापमान में रंगहीन तरल के रूप में और ज्यादा तापमान पर रंगहीन गैस के रूप में पाया जाता है. पाउडर फॉर्म में सोडियम साइनाइड या पोटैशियम साइनाइड पाए जाते हैं.
Cyanide

कहां पाया जाता है साइनाइड?

  • साइनाइड 100 से अधिक पौधों में पाया जाता है जैसे कि बादाम, बांस, कोर्न्स, आलु, कॉटन वगैरह. कुछ फलों में भी जैसे नाशपाती, बेर, सेब का बीज, एप्रिकोट और चेरी वगैरह. इसके अलावा सिगरेट के धुएं, जलता हुआ कोयला, प्लास्टिक वगैरह में भी यह पाया जाता है.

कहा होता है साइनाइड का इस्तेमाल?

  • साइनाइड पेपर, कपड़े और प्लास्टिक को बनाने में इस्तेमाल किया जाता है. सोने, धातुओं की सफाई और इलेक्ट्रोप्लेटिंग में भी साइनाइड का इस्तेमाल किया जाता है. फोटोग्राफी में भी साइनाइड का इस्तेमाल किया जाता है.

खतरनाक

साइनाइड के बारे में कुछ और रोचक तथ्य

  • साइनाइड कभी भी फूड चैन को आगे नहीं बढ़ा सकता है. मतलब यदि एक मछली को साइनाइड पाइज़निंग हो जाए तो उस मछली को खाने से किसी भी इंसान या जानवर को साइनाइड पाइज़निंग नहीं होगी.
  • कई कीड़े भी हैं जो इस साइनाइड बनाते हैं. जैसे millipedes, moths, बीटल, centipedes और यहां तक कि तितली भी सायनाइड निकालने के लिए जानी जाती है.

Comments are closed.