Take a fresh look at your lifestyle.

मृत सागर से जुड़े तथ्यों को जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान

मृत सागर यानी डेड सी का नाम तो सभी ने सुना है लेकिन किसी सागर का नाम मृत सागर रखने की असली वजह आपको नहीं पता होगी. आज हम आपको मृत सागर से जुड़ी कई ऐसी रोचक बातों के बारे में बताएंगे जिन्हें जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे.

1. मृत सागर का पूर्वी तट जॉर्डन है, दक्षिण पश्चिम तट इजराइल है.

2. ये सागर 65 किलोमीटर लंबा और 18 किमी चौड़ा है.

मृत सागर
मृत सागर

3. यह समुद्र तल से 400 मीटर नीचे स्थित है. ये सागर दुनिया का सबसे निचला सागर है. इसका पानी खारा होने के कारण इसे खारे पानी की सबसे निचली झील भी कहा जाता है.

4. मृत सागर का पानी सामान्य समुद्री पानी की तुलना में 6 से 7 गुना ज़्यादा खारा है.

5. मृत सागर का पानी सिर्फ खारा ही नहीं बल्कि इसमें जिंक, सल्फर, कैल्शियम, पोटाश, ब्रोमाइड, मैग्नेशियम जैसे खनिज लवण भी मौजूद हैं, जिसके कारण इस सागर के नमक का इस्तेमाल खाने के लिए नहीं किया जा सकता है.

मृत सागर
Dead Sea

6. हालांकि Dead Sea का नमक खाने के लिए उपयुक्त नहीं है लेकिन इसका इस्तेमाल औषधियां और उर्वरक बनाने में किया जाता है.

7. सागर में नमक की अधिकता की वजह से इसमें मछली और दूसरे समुद्री जीव जीवित नहीं रह पाते हैं. अगर अनजाने में कोई समुद्री जीव इस सागर में आ जाता है तो उसकी तुरंत मौत हो जाती है.

मृत सागर
Dead Sea

8. समुद्री जीवों के अलावा जलीय पौधे भी इस सागर में नहीं पनप पाते. सिर्फ कुछ बैक्टीरिया और शैवाल ही पाए जाते हैं. इसी वजह से इस सागर को मृत सागर कहा जाने लगा. ये नाम एक ग्रीक लेखक द्वारा दिया गया था.

9. इस सागर का घनत्व इतना ज़्यादा है कि अगर कोई व्यक्ति इस सागर में सीधे लेट जाए तो वो डूबेगा नहीं, आसानी से तैर सकेगा.

10. अनोखी खूबी की वजह से ही इस सागर को 2007 में ‘विश्व के सात अजूबे’ में चुने गए 28 जगहों की लिस्ट में इसे शामिल किया गया था.

त्योहार के मौके पर लोग मोमबत्तियां क्यों जलाते हैं?

Comments are closed.