Take a fresh look at your lifestyle.

Avul Pakir Jainulabdeen Abdul Kalam के बारे में रोचक तथ्य जानिये

भारत के पूर्व राष्ट्रपति Avul Pakir Jainulabdeen Abdul Kalam अब इस दुनिया में तो नहीं हैं लेकिन उनके विचार और उनकी जिंदगी से जुड़े किस्से आज भी जिंदा हैं. बचपन में आर्थिक तंगी झेल कर भी कलाम ने भारत देश को एक पहचान दी. आइए जानते हैं मिसाइल मैन एपीजे अब्दुल कलाम के बारे में.

A. P. J. Abdul Kalam
A. P. J. Abdul Kalam

1. A. P. J. Abdul Kalam का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को तमिलनाडु के रामेश्वरम में हुआ था.

2. अब्दुल कलाम का पूरा नाम अबुल पाकिर जैनुल्लाब्दीन अब्दुल कलाम था.

3. डॉ. कलाम के पिता ज्यादा पढ़े लिखे नहीं थे. वे पेशे से नाविक थे, मछुआरों को नाव किराये पर दिया करते थे. 5 भाई और 5 बहनों वाले परिवार को चलाने के लिए पिता के पैसे कम पड़ जाते थे.

4. शुरुआती शिक्षा के लिए कलाम को अखबार बेचने का भी काम करना पड़ा था. महज 8 साल की उम्र से ही कलाम सुबह 4 बजे उठते और नहा कर गणित की पढ़ाई करने चले जाते थे. सुबह नहाने का कारण यह था कि हर साल पांच बच्चों को मुफ्त में गणित पढ़ाने वाले उनके टीचर बिना नहाए आए बच्चों को नहीं पढ़ाते थे.

A. P. J. Abdul Kalam
A. P. J. Abdul Kalam

5. ट्यूशन से आने के बाद अब्दुल कलाम नमाज पढ़ते और सुबह आठ बजे तक रामेश्वरम रेलवे स्टेशन और बस अड्डे पर न्यूज पेपर बांटते थे.

6. A. P. J. Abdul Kalam ने अपनी शुरुआती पढ़ाई रामेश्वरम् में पूरी की. सेंट जोसेफ कॉलेज से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की और मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त की.

7. कलाम ने भारत के 11वें राष्ट्रपति के रूप में सेवाएं दीं.

8. 1962 में कलाम इसरो में पहुंचे. इन्हीं के प्रोजेक्ट डायरेक्टर रहते भारत ने अपना पहला स्वदेशी उपग्रह प्रक्षेपण यान एसएलवी-3 बनाया.

9. 1980 में रोहिणी उपग्रह को पृथ्वी की कक्षा के समीप स्थापित किया गया और भारत अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष क्लब का सदस्य बन गया. कलाम ने इसके बाद स्वदेशी गाइडेड मिसाइल को डिजाइन किया. उन्होंने अग्नि और पृथ्वी जैसी मिसाइलें भारतीय तकनीक से बनाईं.

A. P. J. Abdul Kalam
A. P. J. Abdul Kalam

10. अब्दुल कलाम की देखरेख में ही भारत ने 1998 में पोखरण में अपना दूसरा सफल परमाणु परीक्षण किया था.

11. 1982 में कलाम को DRDL (डिफेंस रिसर्च डेवलपमेंट लेबोरेट्री) का डायरेक्टर बनाया गया. उसी दौरान अन्ना यूनिवर्सिटी ने उन्हें डॉक्टर की उपाधि से सम्मानित किया.

12. 1992 से 1999 तक कलाम रक्षा मंत्री के रक्षा सलाहकार भी रहे.

13. 1981 में कलाम को भारत सरकार ने देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान, पद्म भूषण और फिर 1990 में पद्म विभूषण और 1997 में भारत रत्न से सम्मानित किया.

14. भारत के सर्वोच्च पद पर नियुक्ति से पहले भारत रत्न पाने वाले कलाम देश के तीसरे राष्ट्रपति हैं. उनसे पहले यह मुकाम सर्वपल्ली राधाकृष्णन और जाकिर हुसैन ने हासिल किया था.

15. विंग्स ऑफ फायर, इंडिया 2020, इग्नाइटेड मांइड, माय जर्नी जैसी पुस्तकें कलाम ने लिखी हैं.

16. अब्दुल कलाम को 48 यूनिवर्सिटी और इंस्टीट्यूशन से डाक्टरेट की उपाधि मिली है.

17. 27 जुलाई 2015 को IIT गुवाहटी में संबोधित करते समय उन्हें कार्डियक अरेस्ट हुआ और देश के महान राष्ट्र निर्माता का देहांत हो गया.

इसे भी पढ़ें: Dolphin : समंदर में रहने वाली डॉल्फिन मछली के बारे में रोचक तथ्य जानिये

Comments are closed.