9/11 आंतकी हमला जिसने दुनिया को हिला दिया, कैसे हुआ था वर्ल्ड ट्रेड सेंटर और पेंटागन पर हमला

अमेरिका (America) में हुए 9/11 हमले को आज 20 साल पूरे हो गए हैं. यह वह हमला था जिससे न केवल अमेरिका (America) बल्कि पूरी दुनिया दहल उठी. आंतकवादियों ने न्यूयॉर्क स्थित वर्ल्ड ट्रेड सेंटर (World Trade Center) को निशाना बनाया था. इस हमले में 93 देशों के करीब 3,000 लोग मारे गए थे. 9/11 हमले के बाद अल-कायदा का चीफ ओसामा बिन लादेन (Osama Bin Laden) दुनिया का मोस्ट वांटेड आतंकी बन गया. अमेरिका ने लादेन के ऊपर 2.5 करोड़ डॉलर का इनाम रखा. आखिरकार 2 मई साल 2011 को अमेरिकी सेना ने सीक्रेट मिशन के तहत लादेन को मार गिराया.

World Trade Center
Source- Prospect

साल 1970 में हुआ था इस बिल्डिंग का निर्माण

अमेरिका के न्यूयॉर्क स्थित मैनहट्टन स्थित वर्ल्ड ट्रेड सेंटर सात बिल्डिंग्स का एक कॉम्प्लेक्स था. 1,300 फीट ऊंचाई वाली इस बिल्डिंग्स का निर्माण साल 1970 में हुआ और साल 1973 में इसे खोला गया था.

Source- ArchDaily

9/11 को क्या हुआ था

आज से दो दशक पहले 11 सितंबर साल 2001 की सुबह अल-कायदा के 19 आतंकियों ने कैलिफोर्निया जाने वाले चार प्लेनों को हाईजैक कर लिया. प्लेन हाईजैक करने के बाद दो विमान न्यूयॉर्क के लिए, तीसरा वाशिगंटन डीसी और चौथा प्लेन पेन्सिलवेनिया की रवाना हुए. आंतकियों ने हाईजैक की हुई दो प्लेन को न्यूयॉर्क में स्थित वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के ट्विन टावरों में जाकर टकरा दिया. तीसरा प्लेन वाशिंगटन डीसी के पेंटागन बिल्डिंग से टकराया और चौथा प्लेन पेन्सिलवेनिया के एक खेत में क्रैश हो गया.

दुनिया की ऊंची इमारतों में शुमार 110 मंजिला वर्ल्ड ट्रेड सेंटर टावर इस हमले से पूरी तरह से ध्वस्त हो गया था. बिल्डिंग से टकराने के बाद प्लेन के टायर आग लग गई और दो घंटे के भीतर पूरी बिल्डिंग राख में तब्दील गई.

World Trade Center
Source- KSAT

इस हमले के बाद न्यूयॉर्क के तत्कालीन मेयर रूडी गिउलिआनी ने कहा, ‘हम पुनर्निर्माण करने जा रहे हैं और हम पहले की तुलना में अधिक मजबूत होने जा रहे हैं’.

इस हमले में मारे गए लोगों के लिए साल 2011 में एक स्मारक बनवाया गया. अमेरिकी स्टूडियो डेविस ब्रॉडी बॉन्ड द्वारा डिजाइन किए गए भूमिगत संग्रहालय में 40 हजार फोटो और 14 हजार कलाकृतियां हैं.

हाईजैक की हुई तीसरा प्लेन पेंगाटन में टकराया. इस हमले में रक्षा विभाग से जुड़े 184 लोग मारे गए थे और चौथा प्लेन पेन्सिलवेनिया के खेतों में क्रैश हुआ था. इस घटना में तकरीबन 40 लोगों की मौत हुई थी. मारे गए लोगों की याद में यहां एक स्मार्क स्थल बना हुआ है. जो प्लेन हाईजैक की पूरी कहानी बताती है.

श्रीकृष्ण जन्म स्थान के 10 किलोमीटर की दायरे में नहीं मिलेगी शराब और मांस, योगी आदित्यनाथ का बड़ा फैसला