क्या GST के दायरे में आने से कम हो सकता है हवाई जहाज का किराया?

देश में हवाई यात्रा को सस्ता करने के लिए केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने राज्यों को एक पत्र लिखा जिसमें उन्होंने विमान यात्रा को प्रोत्साहन देने के लिए 22 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों से विमान टर्बाइन ईंधन (ATF) पर लगने वाले मूल्य वर्धित टैक्स (VAT) को कम करने की अपील की है. उन्होंने कहा कि अलग-अलग राज्यों में लगने वाली ATF में बहुत विषमता है, जिसे कम करने की जरुरत है.

केरल ने की VAT में कटौती-

केंद्रीय मंत्री ने केरल का उदाहण देते हुए कहा कि राज्य ने ATF पर लगने वाले वैट को 25 प्रतिशत से घटाकर 1 प्रतिशत कर दिया है जिसके बाद तिरुवतंपुरम हवाई अड्डे पर विमानों की आवाजाही की संख्या छः महीने में 21,516 से बढ़कर 23,566 उड़ानों तक हो गई है. वैट टैक्स में कटौती करने के बाद 2050 विमानों की उड़ानों में वृद्धि हुई है.

Airoplane
Source- Aaj Tak

इसके अलावा हैदराबाद में 6 महीनों में उड़ानों की संख्या 76,954 से बढ़कर 86,842 उड़ानों तक पहुंच गई है. तेलंगाना ने ATF पर लगने वाले VAT टैक्स को 16 प्रतिशत से घटाकर 1 प्रतिशत कर दिया है.

कोविड काल में प्रभावित हुआ विमान उद्योग-

सिंधिया ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को भेजे पत्र में एटीएफ पर वैट टैक्स को तत्काल प्रभाव से सभी हवाई अड्डों पर घटाकर एक प्रतिशत से चार प्रतिशत के अंदर लाने की जरूरत पर बल दिया है. उन्होंने बताया कि कोरोना काल के दौरान यात्रा पर लगाए गए प्रतिबंध के कारण विमान उद्योग पर बुरा प्रभाव पड़ा.

वैट में कटौती से कम हो सकता है हवाई जहाज का किराया-

23 जुलाई को, नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने औपचारिक रूप से वित्त मंत्रालय से ATF को GST के अंतर्गत लाने की बात कही थी. जिसके अनुसार ATF पर टैक्स दर 12 प्रतिशत से अधिक नहीं होगा.

जानकारों का मानना है कि ATF को GST की दाययरे में लाने से हवाई जहाज का किराया कम होगा क्योंकि वर्तमान में अलग-अलग राज्य ATF पर अलग-अलग वैट टैक्स वसूलते हैं. किसी राज्य में ATF पर 27 प्रतिशत टैक्स लगता है तो कही 15 प्रतिशत.

कभी शिवसेना के भरोसेमंद थे नारायण राणे, अब उद्धव ठाकरे के खिलाफ देेते हैं विवादित बयान

भारतीय सेना को मिला घातक MMHG हैंड ग्रेनेड, 100 साल से अधिक पुराने HE 36M ग्रेनेड की जगह लेगा