पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने पार्टी की मौजूदा हालात के लिए गांधी परिवार को ठहराया जिम्मेदार

पंजाब की राजनीति में उथल पुथल के बाद पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने कांग्रेस की मौजूदा हालात के लिए पार्टी हाईकमान को जिम्मेदार बताया है. उन्होंने कहा कि पार्टी में हालात सही नहीं है. इसके लिए तीन लोग जिम्मेदार हैं सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी.

नटवर सिंह ने कहा कि आज भले ही राहुल गांधी के पास कोई पद नहीं है, लेकिन वह सभी मामलों पर फैसला लेते हैं. कांग्रेस में न तो अब वर्किंग कमेटी की बैठक होती है औ न ही राष्ट्रीय कार्यकारिणी बुलाई जाती है. राहुल गांधी ने कैप्टन अमरिंदर सिंह की जगह नवजोत सिंह सिद्धू को प्राथमिकता दी. जो कभी भी कुछ भी फैसला ले सकते हैं. सिद्धू ने एक बार राज्यसभा से इस्तीफा दे दिया था और फिर उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी से मिलने के बाद कहा था कि क्या क्या इस्तीफा वापस लिया जा सकता है. वहीं कैप्टन अमरिंदर सिंह को 52 साल का अनुभव है.

पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने कहा कि इस वक्त कांग्रेस में केवल तीन नेता ही नजर आते हैं. कोई भी कांग्रेसी नेता इन तीनों के खिलाफ आवाज नहीं उठाता है. वर्किंग कमेटी की मीटिंग में सब चुप रहते हैं. देश को इस वक्त एक ताकतवर कांग्रेस की जरूरत है.

नटवर सिंह ने कहा कि इस वक्त पंजाब कांग्रेस संकट में है लेकिन फैसले लेने वाले कोसों दूर हैं. राहुल गांधी केरल में हैं. वहीं प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश में हैं. इस वक्त दोनों की जरूरत चंडीगढ़ में है.

कपिल सिब्बल भी जता चुके हैं नाराजगी

कांग्रेस के वरिष्ठ राजनेता कपिल सिब्बल भी पंजाब कांग्रेस में चल रहे संकट को लेकर नाराजगी जताई थी. उन्होंने कहा था कि कांग्रेस में कोई इलेक्टेड प्रेसिडेंट नहीं है. लेकिन कोई न कोई फैसला लेता ही रहता है. वर्किंग कमेटी के साथ चर्चा करके कोई फैसला करना चाहिए. लोग पार्टी क्यों छोड़कर जा रहे हैं इस पर विचार करने की जरूरत है.

पूर्व CM कैप्टन अमरिंदर सिंह ने NSA अजीत डोभाल से की मुलाकात, पंजाब में सियासत हुई तेज