Take a fresh look at your lifestyle.

रहस्यमयी जिंदगी जीने वाले रजनीश ओशो की कुछ बातें जो आपके काम आएंगी

दुनिया के सबसे रहस्यमयी लोगों में से एक माने जाने वाले रजनीश ओशो  ने साल 1990 में आज के दिन यानी 19 जनवरी को ही दुनिया को अलविदा कहा था. दुनिया में आध्यात्मिक गुरू ओशो के नाम से प्रसिद्ध रजनीश ओशो की मौत भी रहस्यमयी तरीके से ही हुई थी. 11 दिसंबर 1931 को जन्म लेने वाले रजनीश ओशो ने 19 जनवरी 1990 को दुनिया से अलविदा कहा था.

ओशो दुनियाभर में उन आचार्यों में से एक माने जाते रहे जिनके पास जाने से व्यक्ति को मानसिक संतुष्टि प्राप्त होती थी. आचार्य रजनीश ओशो की पुण्यतिथि के मौके पर जानिये उनकी द्वारा कही गई कुछ बातें जो आपके बहुत काम आएंगी

रजनीश ओशो
Courtesy-Realization.org

1. जहां व्यक्ति का डर समाप्त हो जाता है वहीं से वास्तविक जीवन शुरू होता है.

2. यथार्थवादी रहें और किसी चमत्कार की योजना बनाएं अर्थात जीवन की सच्चाई में जीवन जिएं और योजनाओं को सफल बनाने में लगे रहें.

3. किसी अन्य व्यक्ति की तरह बनने के विचारों को तुरंत हटा दें क्योंकि आप अपने आप में संपूर्ण और सबसे अलग हैं. आप के स्वभाव में मूलचूल परिवर्तन नहीं हो सकता है. जितनी जल्द हो सके आप अपने स्वभाव को जानें, समझें और स्वीकार करें.

4. इस दुनिया में कोई भी व्यक्ति आपको दुःख नहीं दे सकता है या फिर सुख दे सकता है. आपके और हमारे सुख या दुःख हमारे भूतकाल के अनुभव आदि से स्वतः ही हमें महसूस होते हैं.

5. लोग जितना कम जानते हैं उतना ही अधिक मजबूती से जानते हैं.

6. आपकी अकेले रहने की क्षमता आपके द्वारा प्रेम करने की क्षमता को निर्धारित करता है. अनेक विरोधाभासों के बावजूद आपके अकेले रहने की क्षमता आपके प्रेम को परिपक्व करती है क्योंकि इससे आप किसी दूसरे व्यक्ति पर निर्भर होने जा रहे हैं.

रजनीश ओशो
Source-Vice

7. प्रसन्नता का एक सबसे आसान नियम है कि जो भी काम आप कर रहे हो सिर्फ उसे ही करो. भूतकाल का आपके मस्तिष्क पर प्रभाव नहीं पड़ना चाहिए और साथ ही भविष्य का कोई भय भी उसे प्रभावित नहीं करना चाहिए.

8. दुनिया में करोड़ों-अरबों लोग प्रेम की चाहत में परेशान हैं. वे प्रेम तो करना चाहते हैं लेकिन प्रेम करने का तरीका नहीं जानते हैं. प्रेम एक तरफा नहीं हो सकता है बल्कि प्रेम हमेशा एक संवाद ही होता है.

9. हमारे जीवन में लोगों का आना-जाना लगा रहता है. यह एक नियत क्रम है जिसमें लोगों का जाना हमारे लिए बहुत अच्छा होता है. किसी के हमारे जीवन से जाने पर हमारे पास किसी बेहतर व्यक्ति के लिए स्थान बन जाता है.

10. वास्तविक सवाल यह नहीं है कि क्या मृत्यु के बाद भी जीवन है बल्कि असल सवाल यह है कि आपने अपनी मृत्यु से पहले जीवन को जिया है या नहीं.

यह भी पढ़ें- https://azabgazab.com/luxembourg-worlds-first-country-where-public-transport-is-free/

 

Comments are closed.