Take a fresh look at your lifestyle.

एक लाख रुपये की नोट भी छप चुकी है देश में, जानिए एक लाख रुपये की नोट से जुड़े कुछ तथ्य

आज आपको Azab Gazab में कुछ ऐसा जानने को मिलेगा जिसे सुनकर आपको काफी हैरानी होगी. आपने एक, दो, पांच और दस रुपये से लेकर 2000 तक की नोट देखी होगी और उनका प्रयोग भी किया होगा. लेकिन क्या कभी आपने एक लाख रुपये की नोट के बारे में सुना या पढ़ा है? तो आज बात करते हैं एक लाख रुपये की नोट के बारे में जिसमें गांधी जी नहीं बल्कि सुभाष चंद्र बोस की फोटो छपी थी.

नोट
Courtesy-Patrika

आजाद हिंद बैंक और एक लाख की नोट से जुड़ी कुछ खास बातें-

1- नेता जी सुभाष चंद्र बोस के चालक रहे रहे कर्नल निजामुद्दीन ने एक इंटरव्यू में बताया था कि इस नोट को जारी करने वाली बैंक थी आजाद हिंद बैंक जिसे उसे जमाने में दस देशों में समर्थन प्राप्त था.

2- इसे जारी करने वाली बैंक आजाद हिंद बैंक की स्थापना साल 1943 में हो गई थी.

3- आजाद हिंद फौज के समर्थक देशों ने वर्मा, इटली, क्रोसिया, जर्मनी, नानकिंग, मंचूको, थाईलैंड, फिलीपिंस व आयरलैंड ने बैंक की करेंसी को भी मान्यता दी थी.

4- आजाद हिंद बैंक ने सिर्फ एक लाख रुपये का ही नोट नहीं छापा था बल्कि दस रुपये का सिक्का भी जारी किया था. हालांकि द्वारा जारी 5000 के नोट की सार्वजनिक जानकारी थी.

नेता जी की जयंती है 23 जनवरी को होती है. इस मौके पर इस जानकारी के अलावा और भी कई जानकारियां हैं जो हम आपके साथ साझा कर रहे हैं. आपको ये जानकर हैरानी होगी कि नेता जी ने आजाद हिंद फौज का खुफिया विभाग भी बनाया था. जिसमें काफी चुनकर लोगों को रखा गया था. इस खुफिया एजेंसी का नेटवर्क बहुत ही जल्द भारत के हर हिस्से-हिस्से तक फैल गया था.

इसे भी पढ़ें- ऊंटनी का दूध पीने के हैं कई फायदे, जानिए बाजार में कैसे मिलेगा ये दूध

Comments are closed.