Take a fresh look at your lifestyle.

विदेश में अगर टीम इंडिया है हिट तो घर में ये टीम है शेर

घरेलू क्रिकेट की ये टीम भारत में है नंबर वन

एक ओर जहां टीम इंडिया विदेशों में एक के बाद एक सीरीज जीत रही है. ठीक उसी प्रकार घरेलू क्रिकेट में भी एक टीम है जो लगातार घरेलू सीरीज जीत रही है.  घरेलू क्रिकेट में मुंबई, दिल्ली, कर्नाटक, तमिलनाडु की टीमों का नाम ही सबसे पहले आता है. लेकिन विदर्भ ने पिछले दो साल में इस सोच को बदला है.

विदर्भ ने 2017-19 के बीच में दो रणजी ट्रॉफी और दो ईरानी कप खिताब अपने नाम कर लिया है. विदर्भ की इस जीत के कई नायक रहे. एक टीम जब जीतती है तो कोई एक शख्स उसकी वजह नहीं होता.

Vidarbh Ranji Team

विदर्भ को कोच ने बनाया खास

चंद्रकांत पंडित भारत के लिए पांच टेस्ट और 36 वनडे खेले हैं. उन्होंने 2017-18 सीजन में टीम का कोच बनाया गया और अपने पहले ही टास्क में विदर्भ को पहली बार रणजी ट्रॉफी विजेता बना दिया. चंद्रकांत पंडित को क्रिकेट की दुनिया में खडूस कहा जाता है. वो प्रैक्टिस में नो बॉल फेंकने पर 500 रुपए जुर्माना लगा देते हैं. के तौर पर देते हैं तो खिलाड़ी से निजी तौर पर बात कर उसका आत्मविश्वास भी बढ़ाते हैं. चंद्रकांत मुंबई को भी रणजी ट्रॉफी विजेता बना चुके थे.

Vidarbh Ranji Team

वसीम जाफर के आने से टीम को मिली ताकत

नाम वसीम जाफर ने भारत के लिए 31 टेस्ट खेल चुके हैं जाफर 2015-16 में विदर्भ से जुड़े. जाफर मुंबई के साथ रहते हुए रणजी ट्रॉफी का खिताब जीत चुके थे. उनके पास बड़े मैचों का अच्छा-खासा अनुभव था, जो विदर्भ के काम आया. इस रणजी सीजन में जाफर ने 15 पारियों में 1037 रन बनाए.

कप्तान फैज ने की उम्दा कप्तानी

फैज फजल कप्तान के रूप में विदर्भ के सबसे सफल कप्तान रहे हैं. विदर्भ ने उन्हीं की कप्तानी में यह सभी खिताब जीते हैं. कप्तानी से लेकर सलामी बल्लेबाजी तक टीम को मजबूत शुरुआत देने की दोनों जिम्मेदारी को फैज ने बखूबी निभाया. जाफर और फैज के रहने से टीम का बल्लेबाजी क्रम बेहद मजबूत रहा जिससे टीम को बेहद फायदा हुआ.

घरेलू क्रिकेट
Vidarbh Ranji Team

वाडकर-गुरबानी का शानदार खेल

फैज और जाफर के अलावा अक्षय वाडकर ने बल्लेबाजी कमाल दिखाया था. गेंद से रजनीश गुरबानी ने टीम को सफलता दिलाई थी. इन दोनों ने इस सीजन में भी अच्छा प्रदर्शन किया और टीम को एक बार फिर खिताब तक लेकर आए.

Comments are closed.