Take a fresh look at your lifestyle.

दिन में भी क्यों जलती रहती है आपके बाइक की लाइट?

जाने लाइट के पीछे का क्या है राज?

भारत में सड़क दुर्घटनाओं में करोड़ो लोग अक्सर अपनी जान गवा देते हैं. लेकिन सड़क दुर्घटनाओं में सबसे अधिक मरने वालों की संख्या दुपहिया वाहन चालकों की होती है. इसलिए सरकार ने इन सड़क दुर्घटनाओं की संख्या में कमी करने के लिए सभी मुमकिन उपाय उठाने शुरू कर दिए हैं. इन्हीं उपायों में एक उपाय है दिन में वाहनों की हेडलाइट जलाना. आइए जानते हैं ऐसा क्यों हुआ?

BS-3 वाहनों में नहीं जलती थी लाइट

साल 2017 में सुप्रीम कोर्ट ने बीएस-3 (Bharat stage emission standards)वाहनों की बिक्री पर रोक लगा दी है क्योंकि ये वाहन ज्यादा प्रदूषण फैलाते थे. इस रोक के बाद अब 1 अप्रैल 2017 से ऑटो कंपनियों द्वारा बीएस-3 ईंधन से चलने वाले वाहनों का ना तो उत्पादन किया जायेगा और ना बिक्री. अर्थात अब कम्पनियाँ केवल बीएस-4 ईंधन से चलने वाले वाहनों का उत्पादन ही कर सकेंगीं.यही कारण है कि 2017 में देशभर के शो रूमों में पुरानी गाड़ियों को बहुत ही कम दामों पर बेचा गया था.

BS-4 में जलती रहेगी लाइट

बीएस-4 ईंधन से चलने वाले इस इंजन का नया फीचर यह है कि इसमें वाहन का इंजन स्टार्ट होते ही वाहन की हेडलाइट भी जल जाएगी. जब तक दोपहिया वाहन का इंजन स्टार्ट रहेगा तब तक हेडलाइट ऑन रहेगी. वाहन चालक इसे चाहकर भी बंद नहीं कर पाएंगे. अब हेडलाइट ऑन-ऑफ स्विच की जगह अब सभी दोपहिया वाहनों में आटोमैटिक हेड लाइट सिस्टम (ओएचओ) होगा.

इसलिए अब अगर आपको किसी बाइक/कार की लाइट दिन में भी ऑन दिखे तो उस व्यक्ति को अपना हाथ गोल-गोल करके बताने की कोशिश ना करें. हालांकि जिन लोगों को इस नए फीचर के बारे में जानकारी नहीं है वे लोग अपने वाहन को लेकर सर्विस सेंटर भी पहुंच रहे हैं.

दिन में लाइट जलाने के फायदे

दिन में लाइट जलाने का सबसे बड़ा फायदा उस समय होगा जब धूल, बरसात, घने कोहरे और भारी ट्रैफिक में वाहन चालक दूसरे वाहनों को देख पाएंगे. इसके अलावा सामान्य मौसम में भी जब सामने से आ रहे वाहन की लाइट चमकती है तो विपक्षी ड्राईवर सतर्क हो जाता है जिससे एक्सीडेंट की संभावना कम हो जाती है.

Comments are closed.