Take a fresh look at your lifestyle.

हिंदू धर्म में ‘ओम’ को क्यों माना जाता है सबसे ज्यादा शुभ, जानिए रोचक कारण

वास्तु शास्त्र के अनुसार ओम शब्द में दुनिया भर की सारी शक्तियां विद्यमान रहती हैं

हिंदू धर्म के अनुसार जब भी हम किसी शुभ काम की शुरुआत करते हैं तो ओम शब्द का उच्चारण करके ही करते हैं. ऐसा माना जाता है कि ओम में दुनिया भर की सारी शक्तियां विद्यमान रहती हैं. जिसके जरिये हमारे आस-पास से नकारात्मक उर्जा दूर भाग जाती है. आज हम आपको ओम शब्द से जुड़ी कुछ ऐसी रोचक जानकरी देंगे जो आपके काम आएंगी.

photo credit-Religion World

1.वास्तु शास्त्र में ओम शब्द के उच्चारण से ही सारे कष्टों के दूर होने की बात कही गयी है. साथ ही शब्द को भगवान का साक्षात स्वरूप माना जाता है. अगर आप चाहते हैं कि आपके आस-पास हमेशा ईश्वर निवास करके आपकी सुरक्षा करें तो आपको ओम का उच्चारण जरुर करना चाहिए.

ये भी पढ़ें- इसलिए मछलियों के जोड़े को घर में रखने की है मान्यता, जानिए क्या होता है फायदा

2.ऐसा माना जाता है कि ओम के निरंतर जाप से धन, सेहत, और वास्तु दोष से जुड़ी समस्याओं को दूर किया जा सकता है. अगर आप अपने घर के मुख्य द्वार पर दोनों तरफ लाल सिंदूर से स्वस्तिक बनाकर बीचोंबीच ओम लिखते हैं तो घर से वास्तु दोष को खतम किया जा सकता है.

photo credit-Online Bhajans

3.शास्त्रों में ऐसा करने से घर में सकारात्मक माहौल बना रहता है. साथ ही घर की आर्थिक स्थिति में भी मजबूती होने लगती है.

4.धनलाभ के लिए ओम का प्रयोग किया जाता है. जिसके लिए सफेद कागज के टुकड़े में हल्दी से ओम लिखकर पूजा स्थल में भगवान के पास रखकर दीप जलाएं. जिसके बाद उसे अपने पर्स में रख लें. ऐसा करने से आर्थिक स्थिति ठीक बनी रहती है.

ये भी पढ़ें- सदियों से चली आ रही कन्यादान की परंपरा के पीछे क्या है वजह, जानिए यहां

Comments are closed.